बुरहानपुर जिला पहुंचा 70 पॉसिटीव कैशेष के पार | Burhanpur jila pahucha 70 positive cases ke paar

बुरहानपुर जिला पहुंचा 70 पॉसिटीव कैशेष के पार 

बुरहानपुर जिला पहुंचा 70 पॉसिटीव कैशेष के पार

बुरहानपुर (अमर दिवाने) - जिले में कोरोना संक्रमण को लेकर लापरवाही के नतीजे अब सामने आने लगे है। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में पुनः भयावह स्थिति उत्पन्न हो गई है, जिससे महाराष्ट्र सीमा से लगे बुरहानपुर जिले में सबसे ज्यादा खतरा बना हुआ है। बुरहानपुर पिछले 8 दिनों तक 0 पर था। अब 70 से अधिक मामले सामने आ चुके है, जिससे यह स्पष्ट होता है कि लोग संक्रमण को लेकर लापरवाही बरत रहे है। महाराष्ट्र से आवागमन बेधड़क बिना किसी रोक टोक के अभी भी जारी है, मास्क, सेनिटाईजर और दो गज़ की दूरी को लोंग भूल गए है, कि अब तो वैक्सीन आ चुकी है लेकिन यहां भी वैक्सीन सेंटर में सोशल डिस्टेंस की धज्जीयां उड रही है। वैक्सीनेशन रूम में एक से अधिक लोगों के एक साथ पहुंचने से संक्रमण फैलने का अंदेशा बढ रहा है। जिम्मेदार स्वास्थ्य अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे है। प्रशासन के रोको टोको अभियान की भी हवा निकल रही है, बाजार में इस अभियान का कोई खास असर दिखाई नही दे रहा है। व्यवसाईक प्रतिष्ठानों में ग्राहकों की, भी बिना मास्क और सोशल डिस्टेंस के भीड यह सब संक्रमण को न्यौता दे रही है। 

बुरहानपुर जिला पहुंचा 70 पॉसिटीव कैशेष के पार

यहीं कारण है कि बुरहानपुर में पिछले 8 दिनों में आंकडा 0 से 70 पर पहुंच गया है। यहां एक दिन में 10 मरीज सामने आ रहे है, पॉजिटिव आने वाले परिवार के सदस्यों के सेंपल भी नही लेना प्रशासनिक चूक है। ऐसे में संक्रमण को रोक पाना मुश्किल है, कलेक्टर प्रवीण सिंह संक्रमण रोकने के लिए रोज नए आदेश जारी कर रहे है। वहीं जिला हॉस्पिटल के वैक्सीनेशन सेंटर में सोशल डिस्टेंसिंग टूट रही है। 1 मार्च से 60 वर्ष आयु वर्ग के बुर्जुगो को ऑनलाईन पंजीयन और ऑफ लाईन पंजीयन वैक्सीन लगना है। जिसको लेकर यहां भीड जुट रही है इस पर कोई नियंत्रण नही है। आम आदमी यह भूल रहे है कि सावधानी भी जरूरी है अन्यथा वैक्सीन के बाद भी संक्रमण का आंकडा आसमान छूकर फिर एक बार भयानक स्थिति उत्पन्न कर सकता है। जिसके लिए सभी को सर्तक रहने की जरूरत है।

Post a Comment

0 Comments