सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए फूके अब आई हाईटेक निगरानी की याद | Safai ke naam pr crore rupye fuke ab aai hightech nigrani ki yaad

सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए फूके अब आई हाईटेक निगरानी की याद

स्वच्छ सर्वेक्षण आते ही वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाने की फिर शुरू हुई कवायद

सौ वाहनों में लगाया जाएगा जीपीएस 

सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए फूके अब आई हाईटेक निगरानी की याद

जबलपुर (संतोष जैन) - शहर में स्वच्छ सर्वेक्षण की कवायद चल रही है ऐसे में निगम को अब डोर टू डोर कचरा कलेक्शन में लगे वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाने की याद आई है कचरा संग्रहण व्यवस्था में लगे 200 वाहनों में पहले से जीपीएस लगा हुआ है कुछ दिन पहले तक उनकी ठीक ढंग से निगरानी नहीं हो रही थी नगर की सफाई व्यवस्था में सुधार लाने के नाम पर नगर निगम हाईटेक मशीनों के उपयोग में करोड़ों रुपए  खर्च करता रहा है लेकिन ज्यादातर प्रयोग फेल रहे हैं

सौ वाहनों में लगाया जाएगा जीपीएस 

शहर के 79 वार्डों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए वाहन रोजाना समय पर पहुंच रहे हैं या नहीं इसकी निगरानी के लिए सभी टिपर वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाया जाना है पहले से 2oo वाहनों में जीपीएस लगा है जबकि 100 और वाहनों में जीपीएस लगाया जाएगा इनमें से 25 टिपर वाहनों की खरीदी होना है निगम के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सभी वाहनों में जीपीएस लग जाने पर दमोह नाका स्थित कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से उनकी निगरानी हो सकेगी।

Post a Comment

0 Comments