कांग्रेस विधायक मेवाराम जाटव भूले मतदाताओ को दिया गया वचन | Congress vidhayak mevaram jatav bhule matdatao ko diya gaya vachan

कांग्रेस विधायक मेवाराम जाटव भूले मतदाताओ को दिया गया वचन

कांग्रेस विधायक मेवाराम जाटव भूले मतदाताओ को दिया गया वचन

भिंड/गोहद (मधुर कटारे) - कांग्रेस विधायक मेवाराम जाटव भूले मतदाताओ को दिया गया बचन नगर पालिका में अधिकारी कर्मचारी कर रहे लाखो रुपये का सफाई के नाम पर बंदरबाट कलेक्टर क्यो नही कर पा रहे इनकी सुनवाई। जानकारी अनुसार गोहद विधानसभा का चुनाव आम जनता में चुनोतियाँ पूर्ण रहता है ।जो भी चुनाव में आता है जनता के बीच बैठकर उनसे बड़े बड़े वादे तो कर दिए जाते है ।पर कार्य करने में रुचि लेना उनकी फितरत में नही देखा जाता नगर पालिका गोहद की सफाई अभियान के नाम पर लाखों का बजट खुर्द बुर्द कर कागजी कार्यबाही में बारे न्यारे कर रही है ओर वरिष्ट अधिकारी जनता प्रतिनधि मोन  साधकर भृष्टचार करने में लगे है ।बार्ड क्रमांक 05 से लेकर 15 बार्ड तक पीने के पानी को लेकर नागरिक बेहद परेसान है और नगर पालिका 50 सालों से पानी की किल्लत खत्म ही नही कर पाई साफ सफाई स्वछता का नारा लगाने बाले सफाई अभियान के नाम पर प्रदेश सरकार से मिलने बाला लाखो करोड़ो का बजट हर वर्ष भृष्ट अधिकारी राजनेता बन्दर बाट करने में लग जाते है ओर आम जनता लूटी पिटी फिर उसी दोहरी जिंदगी जीने में बेबस हो जाती है भारतीय जनता पार्टी के कार्यकाल में गोहद को पूर्व मंत्री लाल सिंह आर्य के द्वारा भी विकास की ओर अग्रसर किया लेकिन पानी के संकट से निजात नही दिलाई गई पूर्व विधायक रणवीर जाटव का भी कार्य काल रहा लेकिन कांग्रेस पार्टी के विधायक होने के कारण सत्ता पक्ष में बदलजाने से काम नही किया गया गोहद की जनता को भरोसा नव प्रत्याशी मेवाराम जाटव पर हुआ जिन्होंने बड़ी बड़ी सभाएं की ओर आम जनको एक बार विधायक बनाने की बात कर झोली फैलाकर बोट माँगा कहा हर सम्भव प्रयास कर पानी की समस्या पर अंकुश लगाएंगे आज गोहद विद्यायक मेवाराम जाटव भी आम जनता के बीच उनकी समस्या देखने नही पहुच रहे है ।नगर पालिका गोहद के मुख्य अधिकारी कागजो में घोड़े दौड़ा कर आम जनता की समस्या पर अंकुश लगाने की बात झूठ बोलकर पल्ला झाड़ रहे है और जिले की मोनिटरिंग करने बाले जिला कलेक्टर वीरेंद्र सिंह रावत गोहद की जनता के बीच पहुच ही नही पा रहे ऐसे में सभी छोटे से लेकर बड़े कर्मचारी अपने मनमाने रवैया अपनाने में लगे है ।साथ ही भृष्टचार का आनंद राजनेताओ से लेकर भृष्ट अधिकारी कर्मचारी जमकर भृष्टाचार करने में लगे है ।

निश्चित ही आम जनता की ओर ध्यान आकर्षित करना वरिष्ठ अधिकारियों को खबर पर प्राथमिकता प्रदान करना चाहिए जिससे आम जनता को राहत मिल सके

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News