दस्तक अभियान आज 15 फरवरी से प्रारंभ | Dastak abhiyan aaj 15 february se prarambh

 दस्तक अभियान आज 15 फरवरी से प्रारंभ

दस्तक अभियान आज 15 फरवरी से प्रारंभ

बुरहानपुर (अमर दिवाने) - जिले में आज 15 फ़रवरी से दस्त से होने वाली बाल मृत्यु रोकने के उद्देश्य से ‘‘दस्तक अभियान‘‘ का आयोजन शुरू किया गया है। इस अवसर पर जिले के जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. वाय. बी. शास्त्री द्वारा बच्चों को ‘‘विटामिन-ए‘‘ की दवाई पिलाकर विधिवत अभियान का शुभारंभ किया। 

दस्तक अभियान आज 15 फरवरी से प्रारंभ

उन्होंने बताया कि 5 वर्ष से कम आयु वर्ग में दस्त रोग बाल मृत्यु का प्रमुख कारण है, इसलिए सभी मैदानी कार्यकर्ताओं को इस पर विशेष ध्यान देना जरूरी है। दस्तक अभियान जिले में 15 जनवरी से लेकर 20 मार्च तक चलेगा। सम्पूर्ण जिले में व्यापक प्रचार-प्रसार, नारे लेखन द्वारा जन जागृति लाई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग का मैदानी अमला घर-घर दस्तक देकर 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को विटामिन-ए की दवाई, ओआरएस का घोल दिया जाना सुनिश्चित किया जा रहा है।  

दस्तक अभियान में घर-घर दस्तक देकर बच्चों का होगा स्वास्थ्य परीक्षण 

जिले में बाल मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से 20 मार्च तक चलाए जाने वाले दस्तक अभियान के अवसर पर जिला टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि दस्तक अभियान में स्वास्थ्य विभाग तथा महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त दल द्वारा घर-घर दस्तक देकर 5 वर्ष तक की आयु के बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर माता-पिता को आवश्यक परामर्श दिया जा रहा है, साथ ही अति कम वजन के बच्चों को चयनित कर उन्हें एन.आर.सी. केन्द्र में भर्ती करवाया जाएगा। उन्होंने जनप्रतिनिधियों, गणमान्य लोगों से दस्तक अभियान से जुड़कर लोगों को जागरूक करने की अपील की। सीएमएचओ डॉ. एम .पी. गर्ग ने बताया कि इस अभियान के तहत एएनएम, आशा कार्यकर्ता व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के संयुक्त दल द्वारा सभी गांवों में घर-घर जाकर 5 वर्ष तक के बच्चों में कुपोषण, गंभीर एनीमिया, निमोनिया, दस्त रोग की पहचान, एसएनसीयू एवं एनआरसी से छुट्टी प्राप्त बच्चों का फालोअप कर बच्चो में जन्मजात विकृति की पहचान की जाएगी। सभी बच्चों में विटामिन ए का अनुपूरण किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि दस्तक अभियान का उद्देश्य 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में प्रमुख बाल्यकालीन बीमारियों की सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान कर त्वरित प्रबंधन करना है ताकि बाल मृत्यु पर अंकुश लगाया जा सके। शुभारंभ अवसर पर प्रदेश नियमित टीकाकरण मॉनिटर विजय सोंनी, सुपरवाइजर असफाक अंसारी, फील्ड स्टाफ जमीला अंसारी उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments