श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव | Shri godiji tirth pr pehli baar dekhne mila anutha parshvarnath janm kalyanak

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

आचार्य श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी म. सा की पावन निश्रा में हुऐ धार्मिक आयोजन

जैन श्री संघो के साथ सांसद गुमानसिंह डामोर, विधायक कांतिलाल भूरिया, रोटरी गर्वनर रो. गजेन्द्र नारंग ने भी की सहभागिता 

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

झाबुआ - दादा गुरू देव की पाट परम्परा के अष्टम पट्टधर वर्तमान गच्छापति तीर्थ प्रेरक आचार्य देवेश श्रीमद विजय ऋषभचन्द्र सुरीश्वर म. सा, मुनिराज चन्द्रयश विजयजी म. सा मुनिराज पुष्पेन्द्र विजयजी म. सा मुनिराज रूपेन्द्र विजयजी म. सा मुनिराज जिनचन्द्र विजयजी म. सा मुनिराज श्री जीतचन्द्र विजयजी म. सा एवं साध्वीवृद की निश्रा में 23 वें प्रकट प्रभावी संकटमोचक तीर्थकर प्रभु श्री पाश्र्वनाथ भगवान का जन्म कल्याणक महोत्सव श्री गौड़ी पाश्र्वनाथ जिनालय परिसर में धूमघाम के साथ मनाया गया। आचार्य श्री ने अपने मुखारविद से जन्म वाचन की विधी पूर्ण की। प्रभु के माता पिता बनने का लाभ मुकेश कुमार रूनवाल परिवार ने प्राप्त किया। इन्द्र इन्द्राणी बनने का लाभ सुनिल कुमार कटकानी परिवार को मिला। जन्म वाचन में थाली बजाने का लाभ मनोहर छाजेड़ परिवार ने लिया। थाली बजाने का लाभ अशोक समरथमल राठौर परिवार ने लिया। जन्म के पश्चात प्रभु की आरती अरविन्द कुमार धोका परिवार अगराल ने उतारी व मंगल आरती संजय नगीनलालजी कांठी परिवार ने उतारी। जन्म कल्याणक महोत्सव में कई समाज जनों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और बडे़ बड़े चढावे के साथ 14 स्वप्न के दर्षन धर्म सभा को करवाये। स्वप्न के चढ़ावे धार्मिक बोलीयों के साथ बोलने से आयोजन की महता बढ़ गई। तपस्वीयों ने बढ़ चढ़ कर बोलियों में हिस्सा लिया। 

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

इस अवसर पर श्री संघ के स्वामी वात्सल्य का लाभ संतोष कुमार रखबचन्द्रजी देवड़ा(नाकोडा) संजय नगीनलालजी कांठी परिवार की ओर से रखा गया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर, क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया एवं रोटरी मण्डल 3040 के गर्वनर रो. गजेन्द्र नारंग विशेष अतिथी के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम में रोटरी परिवार के नीरज सिंह राठौर, अजय रामावत, डाॅ. संतोष प्रधान, अजय शर्मा, देवेन्द्र पटेल, रविन्द्र सिसौदिया, भरत मिस्त्री, सुमित जैन, उमंग सक्सेना, पंकज मोगरा, मनोज अरोड़ा, अशोक शर्मा, महेश कोठारी, आशीष पण्डया, अक्षय कटारिया विशेष रूप से उपस्थित थे।  

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

इस अवसर पर झाबुआ श्री संघ ने पहली बार  प्रभु श्री पाश्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव का इतना सुंदर धर्ममय अपार हर्ष देखा गया। झाबुआ श्री संघ ने लगभग 30 तपस्वीयों द्वारा वर्षीतप की आराधना की जा रही हैं। उस तप का संकल्प भी चोमुखी जिनप्रतिमा के समक्ष आचार्य श्री ने सभी तपस्वीयों को दिलवाया। इस अवसर पर प्रभु प्रतिमा विराजित करने का लाभ श्री हस्तीमल संघवी एवं मुकेष कुमार रूनवाल को प्राप्त हुआ। प्रभु को पुष्प अर्पित कर अक्षत से हेमेन्द्र कुमार बाबेल परिवार ने वधाया। सभी तपस्वीयों को अक्षत प्रकाष जी रांका एवं श्रीमति ज्योति रांका ने प्रदान किये। 

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

आचार्य श्री ने कहा कि झाबुआ की पूण्य धरा पर नियमित रूप से तपस्या होती रहती हैं पर बडे़ गर्व की बात है कि एक साथ तीस तपस्वी वर्षीतप की आराधना कर रहे हैं। और सभी तपस्वीयों को श्री पालीताना तीर्थ पर यात्रा हेतु सुरेखा देवी मनोहर जी मोदी द्वारा ले जाया जा रहा हैं। कोरोना काल को ध्यान में रखते हुऐ सभी तपस्वी या तो मोहनखेड़ा  पारणे हेतु आवे या अपने नगर में आप सुरक्षित हैं तो यही रहकर पारणा करें। इस बात पर श्री संघ अध्यक्ष संजय मेहता ने वर्षीतप पारणें में अपनी निश्रा झाबुआ श्री संघ ने प्रदान करने की विनती की। इस पर आचार्य श्री कहा कि देश काल परिस्थती देखते हुऐ समय आने पर आदेश दिया जायेगा। 

श्री गौड़ीजी तीर्थ पर पहली बार देखने मिला अनूठा पाष्र्वनाथ जन्म कल्याणक महोत्सव

विषेष अतिथि गुमानसिंह डामोर सांसद ने कहा कि मेने कई धर्म को देखा है पर मन पर अकुंष लगाने की बात सिर्फ जैन धर्म में ही कही गई है। इस तपस्या से कई बिमारी से निजात मिल जाती हैं साथ ही वह आराधक प्रभु के पास अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेता हैं। विधायक श्री भूरिया ने कहा कि आचार्य श्री की पावन निश्रा झाबुआ श्री संघ पर सदा बनी रहती हैं। उस कारण यहा धार्मिक, सामाजिक, स्वास्थ्य सबंधित कार्य होते रहते हैं। इस अवसर पर गर्वनर श्री नारंग ने कहा कि हम आचार्य श्री सानिध्य में रहकर उनके नाम से निःशुल्क स्वास्थ्य उपकरण केन्द्र को राष्ट्रीय स्तर की पहचान दिलवायेंगे ताकि जरूरत मन्द को बिना किसी परेषानी के उपकरण मिल सकें। 

कार्यक्रम में त्रिस्तुतिक जैन श्री संघ एवं श्री गौड़ी पाष्र्वनाथ जैन तीर्थ व श्री महावीर बाग ट्रस्ट मण्डल के पदाधिकारीयों द्वारा आचार्य श्री कामली औढाकर आचार्य श्री से श्री संघ की खुशहाली के लिये आर्शीवाद प्राप्त किया।  



Post a Comment

0 Comments