फर्जी जमानतदार गिरोह पकड़ाया | Farzi jamanatdar giroh pakdaya

फर्जी जमानतदार गिरोह पकड़ाया

फर्जी जमानतदार गिरोह पकड़ाया

*फर्जी बही के माध्यम से फर्जी नाम से जमानत लेने वाले गिरोह के मुखिया सहित 7 आरोपी गिरफ्तार, फरार 1 की तलाश*

*पकड़े गये आरोपियेां  से 14 फर्जी बही, 25 नग कोरी बही, 35 नग विभिन्न तहसील न्यायालयों की सील, 2 सील पैड, 1 सीपीयू, 1 माॅनीटर, 1 कलर प्रिंटर, 1 स्कैनर, 1 लैमिनेशनमशीन*

फर्जी जमानतदार गिरोह पकड़ाया

जबलपुर (संतोष जैन) - दिनाॅक 27-1-21 को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि मुन्ना उर्फ शौकत अली फर्जी बही निर्माण करके अपने साथियों के साथ अपराधियों से पैसे लेकर जिला न्यायालय जबलपुर में फर्जी नाम से जमानत कराने का काम करता है, जो आज हनुमानताल स्थित बकरा मण्डी भानतलैया में अपने साथियों के साथ फर्जी बही रखकर जमानत लेने के लिये ग्राहक के इंतजार में है एवं जिला न्यायालय जाने वाला है।

                  सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये गिरोह के आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर श्री अमित कुमार (भा.पु.से.) एवं  नगर पुलिस अधीक्षक गोहलपुर श्री अखिलेश गौर के मार्ग निर्देशन में  द्वारा थाना प्रभारी हनुमानताल श्री उमेश गोलानी के नेतृत्व में  टीम गठित की गयी।

                   गठित टीम के द्वारा योजनाबद्ध तरीके से बकरा मण्डी में दबिश दी  गयी जहाॅ कुछ लोग खडे होकर आपस में बात कर रहे थे जो पुलिस को देखकर घबराकर भागने लगे, 1 युवक भागने मे सफल हो गया, घेराबंदी कर 4 पुरूष एवं 1 महिला को पकडा गया जिन्होने अपने नाम मुन्ना उर्फ शौकत उम्र 60 वर्ष एवं मुन्ना का बेटा सद्दाम अली उम्र 22 वर्ष दोनों निवासी गाजी नगर गली न. 1 गोहलपुर, उदय दाहिया उर्फ पप्पू उम्र 50 वर्ष निवासी सिंगुरसी अगरिया गोसलपुर , सुरेश उर्फ लंगड़ ठाकुर उम्र 60 वर्ष निवासी देवरी खुर्द स्टेशन रोड पनागर, श्रीमति सलमा बी उम्र 45 वर्ष निवासी गाजी नगर 10 नल के पास गोहलपुर बताते हुये भागने वाले का नाम अशरफ अली पिता मुन्ना उर्फ शौकत उम्र 28 वर्ष निवासी गाजीनगर बताये,तलाशी लेने पर मुन्ना उर्फ शौकत कूट रचित 2 नग बही (भू अधिकार ऋण पुस्तिका), शामिलात खातेदार रमजान, बबलू, गफ्फार, राजू पिता मोह. सफी ग्राम डोंगरिया तहसीली बरगी के नाम की मिली जिसमें मुन्ना उर्फ शौकत की फोटो लगी हुई है इसी प्रकार उदय दाहिया उर्फ पप्पू कूट रचित 2 नग बही खातेदार सुखुआ पिता स्व. मनुआ निवासी ग्राम सुड्डी बडवारा जिला कटनी एवं 1 कूट रचित अधारकार्ड जिसमे नाम सुखुआ पिता स्व. मनुआ निवासी ग्राम सुदरसी अगरिया टेकाना थाना सिहोरा लेख है एवं उदय दाहिया की फोटो लगी है, इसी प्रकार सुरेश उर्फ लंगड के पास 1 कूट रचित बही  जिसमें खातेदार भीकम पिता स्व. बाला प्रसाद ग्राम कुडेला तेन्दूखेडा जिला दमोह तथा एक कूट रचित आधारकार्ड जिसमें नाम भीकम सिंह  निवासी तेन्दुखेडा जिला दमोह लेख है  एवं सुरेश उर्फ लंगड की फोटो लगी है, इसी प्रकार सद्दाम अली 2 नग कूट रचित खाली बही तथा श्रीमति सलमा बी 1 कूट रचित बही जिसमें खातेदार जैनुस्वा पति स्व. फैजुल्ला निवासी ग्राम खैरी कटंगी तहसील पाटन  एवं 1 फर्जी कूटरचित अधारकार्ड जिसमें जैनुस्वा लेख है तथा दोनों में श्रीमति सलमा बी की फोटो लगी है रखे मिले, उक्त दस्तावेजो के सम्बंध में पूछताछ करने पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर फर्जी नाम से जिला न्यायालय में पैसे लेकर जमानत का काम करना बताया। उपरोक्त आरोपियों ने पूछताछ पर सोहन लाल भाट के साथ मिलकर  एवं शीलता माई घमापुर निवासी महेन्द्र जैसवाल की फोटो काॅपी की दुकान में अधारकार्ड स्कैन कर फर्जी अधारकार्ड बनवा कर दस्तावेजो की फोटो काॅपी करवाकर फर्जी नामों से जमानत लेना बताये। सोहन लाल भाट एवं महेन्द्र जैसवाल को भी अभिरक्षा मे लेते हुये फर्जी अधारकार्ड, तैयार करने हेतु उपयोग मे लाये जाने वाले उपकरणों को जप्त किया गया है।

                     उपरोक्त के द्वारा जान बूझकर षणयंत्र पूर्वक फर्जी बही का निमार्ण कर फर्जी बही एवं फर्जी अधारकार्ड के आधार पर पैसे लेकर जमानत लेने के कार्य में सम्मलित होना पाये जाने पर थाना हनुमानताल में धारा 420,467,468,471,120 बी भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर 1 महिला सहित पकडे गये आरोपियों को प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार करते हुये फरार अशरफ अली की तलाश जारी है।

              विस्तृत पूछताछ हेतु मुख्य आरोपी मुन्ना उर्फ शौकत का पुलिस रिमांड लिया जा रहा है।

                      *उल्लेखनीय है कि पकडा गया आरोपी मुन्ना उर्फ शौकत फर्जी जमानतदार गिरोह का मुखिया है एवं थाना गोहलपुर का निगरानी बदमाश है मुन्ना उर्फ शौकत वर्ष 2003 से लगातार फर्जी जमानत कराने मे लिप्त है थाना सिविल लाईन में फर्जी जमानत के 10 प्रकरण पंजीबद्ध होकर मान्नीय न्यायालय में विचाराधीन है। इसी प्रकार श्रीमति सलमा बी भी  थाना ओमती  के 44/20 धारा 420, 467, 468, 471, भादवि में तथा  सिविल लाईन अपराध क्रमांक 191/18 धारा 420, 467, 468, 471, भादवि के प्रकरण में फरार चल रही थी, जिसकी गिरफ्तारी पर थाना ओमती के प्रकरण में 4 हजार रूपये एवं थाना सिविल लाईन के प्रकरण में 3 हजार रूपये का ईनाम पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा उद्घोषित किया गया था।*

 *उल्लेखनीय भूमिका-* आरोपियों को फर्जी बही के साथ पकडने में थाना प्रभारी हनुमानताल श्री उमेश गोल्हानी, चैकी प्रभारी प्रेमसागर उप निरीक्षक प्रभाकर सिंह परिहार, सउनि आलोक सिंह, आरक्षक रामजी, चंद्रभान, समरेन्द्र, महेन्द्र, महिला आरक्षक प्रांशू की सराहनीय एवं आरक्षक शिवशंकर की विशेष भूमिका रही।

Post a Comment

0 Comments