अज्ञात युवती की हत्या की गुत्थी सुलझी चार आरोपी गिरफ्तार | Agyat yuvati ki hatya ki gutthi suljhi char aropi giraftar

अज्ञात युवती की हत्या की गुत्थी सुलझी चार आरोपी गिरफ्तार

अज्ञात युवती की हत्या की गुत्थी सुलझी चार आरोपी गिरफ्तार

छिंदवाड़ा (शुभम सहारे) - जिले के तामिया तहसील की है घटना दिनांक 10/01/ 2021 को शाम 5:30 बजे पुलिस को सूचना प्राप्त हुई की थाना तामिया के क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पाटनढाना के नाले में झाड़ियों के पास एक अज्ञात युवती उम्र करीब 15 साल का शव पड़ा है क्षत-विक्षत शव होने से पहचान नहीं हो पा रही है इस सूचना पर तत्काल थाना प्रभारी तामिया पुलिस टीम के साथ रवाना होकर मौके पर पहुंचकर तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को घटना से अवगत कराया प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक छिंदवाड़ा श्री विवेक अग्रवाल घटनास्थल पर पहुंचकर निरीक्षण उपरांत अज्ञात युवती की शिनाख्त की गई और अन्य आवश्यक महत्वपूर्ण निर्देश दिए इन्हीं निर्देशों के पालन में सर्वप्रथम मर्ग क्रमांक 03/21 कर अधिकारी पतासाजी में जुटे रहे इसी बीच न्यूटन चौकी क्षेत्र की एक महिला द्वारा अपनी नाबालिग युवती घर से कहीं चले जाने की सूचना पर उस महिला से पहचान कराने पर अपनी पुत्री होना बताया।

पुलिस अधीक्षक छिंदवाड़ा द्वारा प्रकरण में सिर्फ एवं प्रभावी कार्रवाई हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजीव कुमार उइके  अनुविभागीय अधिकारी पुलिस परासिया श्री अनिल कुमार शुक्ला व थाना प्रभारी परासिया निरीक्षक सुमेर सिंह जगेत व थाना प्रभारी तामिया उप निरीक्षक प्रीति मिश्रा के नेतृत्व में एक विशेष टीम गठित की गई गठित विशेष टीम द्वारा निरंतर साक्ष्य एकत्रित किए गए एवं कई दिनों की सगन पतासाजी एवं मुखबिर तंत्र द्वारा तकनीकी संसाधनों एवं अनुसंधान के आधार पर चार आरोपी  संदेही नीरज भारती, राजा वरुड़कर ,अजय वरकड़े ,एवं संदीप बरकड़े से पूछताछ की गई बार बार पूछताछ के आधार पर ज्ञात हुआ कि न्यूटन चौकी क्षेत्र अंतर्गत का दिनांक 01/01/ 2021 को अपने मित्रों के साथ देवरानी दाई न्यूटन पिकनिक मनाने गए थे पिकनिक मनाने के दौरान अजय बरकड़े एवं संदीप बरकड़े द्वारा मृतिका के पास पहुंचकर घर छोड़ देने को कह कर जबरदस्ती अपने साथ ले जाया गया  को खुद की मर्जी के विरुद्ध जबरदस्ती ले जाते समय कुछ समय बाद रात्रि होने से अंधेरे का लाभ उठाकर वह आरोपी अजय वरकडे व संदीप बरकड़े को चकमा देकर  भागने में सफल रहे तत्पश्चात अगले दिन  भटकते भटकते तामिया भारियाढाना में पहुंची वो रास्ते में आरोपी नीरज भारती वह आरोपी राजा वरुण करके मिलने पर उसे मृतिका का जामई जाने के लिए मदद मांगी उक्त दोनों द्वारा झूठा प्रलोभन देकर जा मैं छोड़ देने को कह कर गलत नियत से खेत के सामने पहाड़ी पर ले जाकर जबरदस्ती करने की कोशिश की थी मृतिका द्वारा इसका विरोध करने पर नीरज भारती एवं आरोपी राजा वरुडकर करने मेथी का का गला दबाकर हत्या कर दी एवं साक्ष्य पानी की नियत से घटनास्थल से मृतका के शव को 400 मीटर दूर पाटन ढाणी के नाले के पास खेत में फेंक दिया चारों आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी अजय बरगढ़ एवं संदीप बर कड़े ने जबरदस्ती मोटरसाइकिल बैठा कर ले जाने का एवं दो अन्य आरोपी नीरज भारती व आरोपी राजा भरोसा द्वारा गला दबाकर हत्या करना स्वीकार किया घटना के चारों आरोपी द्वारा जुर्म स्वीकार करने पर इनके विरूद्ध प्राप्त होने पर गिरफ्तार किया गया।

Post a Comment

0 Comments