झाबुआ जिले के 4 केंद्रों पर प्रथम दिन 300 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए गए | Jhabua jile ke 4 kendro pr pratham din 300 swasthya karmiyo ko tike lagaye

झाबुआ जिले के 4 केंद्रों पर प्रथम दिन 300 स्वास्थ्य कर्मियों को  टीके लगाए गए

जिले में सबसे पहला टीका सफाई कर्मी संजय नाय को लगा

झाबुआ जिले के 4 केंद्रों पर प्रथम दिन 300 स्वास्थ्य कर्मियों को  टीके लगाए गए

झाबुआ (संदीप बरबेटा) - आज का दिन वैश्विक महामारी  कोरोनावायरस के खिलाफ भारत सरकार का  एक महत्वपूर्ण कदम है कोरोना महामारी के खिलाफ निर्णायक जंग शनिवार से झाबुआ जिले के मैदान पर शुरू हो गई। झाबुआ जिले में टीकाकरण के प्रथम चरण में  4 केंद्रों पर 300 स्वास्थ्य कर्मियों को पहले दिन टीके लगाए गए। झाबुआ के केंद्र में  सबसे पहले सफाई कर्मी संजय नाय को टीका लगा। प्रधानमंत्री का भाषण सुबह 11 बजे खत्म होते ही कोरोना पर कड़ा प्रहार करते हुए टीके लगाने का दौर शुरू हो गया था,जो देर शाम तक चला।

कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने की तैयारी बहुत दिनों से हो रही थी। 8 जनवरी को रिहर्सल हुआ था। प्रथम चरण में 7658 स्वास्थ्य कर्मियों को यहां टीके लगाए जा रहे हैं।सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि टीकाकरण स्वैच्छिक है टीकाकरण लगवाने हेतु कोई भी व्यक्ति बाध्य नहीं है

जिला चिकित्सालय झाबुआ में स्थित जिला कोविड कमांड एंव नियंत्रण केन्द्र में शनिवार को सांसद श्री गुमानसिंह डामोर ,कलेक्टर श्री रोहित सिंह तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन की उपस्थिति में कु. पायल राणे ने सफाई कर्मी श्री संजय नया पिता सुनिल को कोविड-19 का टीका लगाकर टीकाकरण अभियान की शुरूआत की। इसके बाद मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जयपाल सिंह ठाकुर, डॉ. लोकेन्द्र सिंह राठौर ने भी कोविड-19 का टीका लगवाया। जिन व्यक्तियों को टीके लगाई गए है, उन्हें निगरानी कक्ष में रखा गया। इस अवसर पर देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के उद्बोधन को सुना व देखा। सांसद श्री डामोर तथा कलेक्टर श्री सिंह द्वारा कोविड-19 के टीकाकरण के पूर्व जिला कोविड कमांड एवं नियंत्रण केन्द्र में की गई व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। जिसमें प्रतिक्षा कक्ष, टीकाकरण कक्ष, निगरानी कक्ष शामिल है। इस टीकाकरण अभियान के शुभारम्भ अवसर पर कु. पायल राणे, कु.सहिन फातिमा मंसूरी तथा कु. साधना का सहयोग रहा। 

     कोविड-19 के प्रथम चरण में जिले में 4 संस्थाओं में टीकाकरण किया गया। जिसमें जिला चिकित्सालय झाबुआ, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पिटोल, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रम्भापुर व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र थांदला पर टीके लगाए गए। इस प्रकार प्रत्येक स्थान पर 100-100 व्यक्तियों को टीके लगाने का लक्ष्य है। इस अवसर पर चिकित्सक, स्टॉफ नर्स, पेरामेडिकल स्टॉफ, सपोर्ट स्टॉफ में चिकित्सकीय स्वास्थ्य कर्मी , एएनएम, एमपीडब्लयू, सुपरवाईजर व आशाकार्यकर्ताओं, हितग्राही, टीकाकृत किया जावेगा। टीकाकृत व्यक्तियों को 28 दिन के बाद दुसरा टीका लगाया जाएगा। संबंधित हितग्राही अपने साथ आधार कार्ड व अन्य भारत सरकार द्वारा जारी पहचान पत्र जो पंजीयन के समय पर दिखाया गया था, साथ में लाना होगा। 

   इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जयपालसिंह ठाकुर, सिविल सर्जन डॉ. बी.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवीय, मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री एल.एस.डोडियार, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. राहुल गणावा सहित अन्य चिकित्सक व जिला चिकित्सालय का स्टॉफ व पत्रकारगण भी मौजूद थे। 

Post a Comment

0 Comments