नर्सिंग होम एसोेसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मेम्बर्स ने लगवायें कोविड-19 के टीके | Nursing home association evam indian medical association member ne lagwaye

नर्सिंग होम एसोेसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मेम्बर्स ने लगवायें कोविड-19 के टीके

10 केन्द्रो सहित प्राईवेट अस्पताल आल इज वेल एवं एप्पल अस्पताल में चल रहा है टीकाकरण

प्राईवेट चिकित्सको में दिखा उत्साह 

नर्सिंग होम एसोेसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मेम्बर्स ने लगवायें कोविड-19 के टीके

बुरहानपुर (अमर दिवाने) - कोरोना से बचाव के लिये स्वास्थ्य कर्मियो एवं फ्रन्टलाईन वर्कस के साथ ही प्राईवेट चिकित्सकों एवं उनके स्टाफ को कोविशील्ड वैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है। 28 जनवरी 2021 को स्वास्थ्य विभाग व्दारा एक साथ 10 केन्द्रों पर टीकाकरण किया गया। जिसमें 2 टीकाकरण सत्र निजी अस्पताल ऑल इज वेल अस्पताल एवं एप्पल अस्पताल भी सम्मिलित किये गये। शासकीय संस्थाओं में जिला चिकित्सालय बुरहानपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लालबाग, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खकनार, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नेपानगर, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बोदरली, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सिवल एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सारोला सम्मिलित है। 

नर्सिंग होम एसोेसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मेम्बर्स ने लगवायें कोविड-19 के टीके

प्राईवेट चिकित्सको में टीका के प्रति खासा उत्साह दिखाई दिया। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ.राहुल सुगंधी, सचिव डॉ.प्रसन्न तरस एवं नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. आषीश जैन एवं सचिव डॉ. सुनिल पाटील, डॉ.आई.एल.मुदडा, डॉ.हेमंत महाजन, समर्पण अस्पताल से डॉ. सुनिल पाटील, डॉ.संजीव कापड़िया, डॉ.गौतमचंद जैन, डॉ.नूतन जैन, डॉ.हर्ष वर्मा, डॉ.अशोक शाह, डॉ.किर्तीका तारवाला, डॉ.शिरिष श्रॉफ, डॉ. सैयद नदीम, डॉ.राजेन्द्र सिंघल, डॉ.आलोक गर्ग, डॉ.मेजर एम.के.गुप्ता, डॉ.बोहरा, डॉ.नीता पाटील सहित आई.एम.ए.के अन्य सदस्यो ने एप्पल अस्पताल में कोविशील्ड का टीका लगवाया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एम.पी.गर्ग ने सभी को वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट प्रदान किया।  

नर्सिंग होम एसोेसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मेम्बर्स ने लगवायें कोविड-19 के टीके

डॉ. आई.एल.मुदडा ने बताया कि कोविशील्ड वैक्सीन पूर्णतः सुरक्षित आसान और प्रभावी है, लगने के बाद कोई साईड इफेक्ट नहीं है, जिन फ्रन्ट लाईन वर्कस और निजी चिकित्सकों को टीके के मेसेज आ रहे है, उन्हें यह टीका जरूर लगवाना चाहिए। भारत सरकार की गाईडलाईन अनुसार सीरम इंस्टीटयूट की कोविशील्ड एवं भारत बायोटेक की कोवैक्सीन दोनों ही वैक्सीन सुरक्षित, असरकारी एवं हानिरहित है।

कोरोना बीमारी से बचाव का एकमात्र साधन टीका ही है, जो सुरक्षा कवच देकर महामारी का अंत करने में सहायक है। यदि शत-प्रतिषत लोग स्वप्रेरित होकर टीका लगवाते है तो कोविड-19 बीमारी का अंत होना निश्चित है। हम सभी संकल्पित होकर स्वयं एवं दूसरो को प्रेरित कर अपनी बारी आने पर सभी काम छोड़कर टीका अवश्य लगवायें।

Post a Comment

0 Comments