बाबू नाटी के भानतलैया स्थित कब्जे वाले पुराने मकान मे 13 तलवारें मिली | Babu nati ke bhantalaya sthit kabje wale purane makan main 13 talware mili

बाबू नाटी के भानतलैया स्थित कब्जे वाले पुराने मकान मे 13 तलवारें मिली

तलवारों को जप्त करते हुये मूल अपराध में किया गया शामिल

बाबू नाटी के भानतलैया स्थित कब्जे वाले पुराने मकान मे 13 तलवारें मिली

जबलपुर (संतोष जैन) - थाना प्रभारी हनुमानताल श्री उमेश गोल्हानी ने बताया कि दिनाॅक 7-11-2020 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना प्राप्त हुई थी कि राजकुमार उर्फ बाबूनाटी सोनकर, गज्जू उर्फ गजेन्द्र सोनकर एवं सोनू उर्फ महेन्द्र सोनकर के संयुक्त स्वामित्व एवं संरक्षण में जुआ फड़ बैठा हुआ है ।

                सूचना पर योजनाबद्ध तरीके से घेराबंदी कर दबिश देते हुये 41 जुआडियों को जुआ खेलते हुये रंगे हाथ पकड़ा गया था कब्जे से 7 लाख 40 हजार रूपये नगद एवं ताश के 52 पत्ते तथा  42 मोबाईल जप्त किये गये थे। तलाशी के दौरान 2 देशी कार्बाईन सहित 17 हथियार , 19 मैग्जीन, विभिन्न बोर के 1478 राउंड, तथा स्टील का फरसा, बका, खडग, एवं जंगली जानवर की सींग  के टुकड़े मिले थे,,  पूछताछ पर सोनू उर्फ महेन्द्र सोनकर,  ने देशी रिवाल्वर साथी रजनीश वर्मा के पास होना बताया था, रजनीश वर्मा जो कि गज्जू सोनकर एवं महेन्द्र उर्फ सोनू सोनकर का बहुत ही करीबी है घर पर नहीं मिला था तलाशी ली गयी तो घर पर 1 पिस्टल एवं 4 कारतूस मिले थे उपरोक्त मिले हथियार आदि जप्त करते हुये सोनू उर्फ महेन्द्र सोनकर ,गज्जू उर्फ गजेन्द्र सोनकर, राजकुमार उर्फ बाबू नाटी सोनकर, रजनीश वर्मा के विरूद्ध अपराध क्रमांक 738/2020  धारा 25, 27 आम्र्स एक्ट एवं वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 39, 51 के तहत  कार्यवाही की गयी थी ।

                          *उक्त प्रकरण की विवेचना पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के मार्दशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री अमित कुमार (भा.पु.से.) के निर्देशन में गठित एस.आई.टी. के द्वारा की जा रही है।*

                   आज दिनाॅक 5-1-2021 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर क्राईम ब्रांच व हनुमानताल पुलिस द्वारा बाबू नाटी के कब्जे वाले पुराने मकान से 13 नग तलवार  जप्त की गयी है, उक्त जप्तशुदा तलवारों को मूल अपराध 738/2020 में शामिल किया गया है। 


 *उल्लेखनीय भूमिका-* चैकी प्रभारी प्रेमसागर उप निरीक्षक प्रभाकर ंिसह परिहार, आरक्षक बबलू पाण्डे, रमेश केवट, राजकुमार वर्मा, वरूण तथा  क्राईम ब्रांच की सराहनीय भूमिका रही।

Post a Comment

0 Comments