टीएल बैठक में कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश | Tal bethak maim collector ne diye adhikariyo ko nirdesh

टीएल बैठक में कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश

खाद्य सामग्री वाले प्रतिष्ठानों की सतत जांच करने के निर्देश

टीएल बैठक में कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - आज 14 दिसंबर को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीएल बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के संबंध में दिशा निर्देश दिये। बैठक में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती उमा महेश्वरी, अपर कलेक्टर श्री फ्रेंक नोबल ए, सभी एसडीएम एवं अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

टीएल बैठक में कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश

     कलेक्टर श्री आर्य ने बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया कि मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिले में सतत कार्यवाही की जाये। खाद्य सामग्री का विक्रय करने एवं निर्माण करने वाले प्रतिष्ठानों की नियमित रूप से जांच की जाये और यह कार्यवाही केवल नगरीय क्षेत्रों तक सीमित न रहे बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में यह कार्यवाही की जाये। राईस मिलों की भी जांच की जाये और देखे कि चावल एवं अन्य खाद्य सामग्री में सुगंध के लिए कोई केमिकल तो नहीं मिलाया जा रहा है और मिलाया जा रहा है तो वह उसके पैकेट पर लिखा है या नहीं। 

     कलेक्टर श्री आर्य ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे वाहनों की जांच कर देखें कि उसके ईंधन में केरोसीन तो नहीं मिलाया जा रहा है। डीजल एवं पेट्रोल के दाम बढ़ने के कारण केरोसीन की कालाबाजारी कर चार पहिया वाहनों में उपयोग की संभावना बढ़ गई है। अत: सभी अधिकारी इस पर कड़ी निगरानी रखें। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत पात्र किसानों के सत्यापन का कार्य तेजी से पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। बताया गया कि जिले के 36 हजार 436 किसानों का सत्यापन शेष है। किसानों के सत्यापन के लिए जिन किसान की मृत्यु हो चुकी है उनकी फौती दर्ज कर नामांतरण करने के निर्देश दिये गये। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत ऐसे शासकीय कर्मचारी जिनके नाम पर कृषि भूमि है और उनके खाते में 02 हजार रुपये की राशि जमा हो गई है, उन्हें यह राशि शासन को वापस करने के निर्देश दिये गये। यदि राशि वापस नहीं की जायेगी तो ऐसे कर्मचारियों के वेतन से यह राशि काट ली जायेगी।

     बैठक में प्रत्येक सोमवार एवं गुरूवार को पटवारी, पंचायत सचिव एवं ग्राम रोजगार सहायक की अपने पंचायत मुख्यालय में उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये। इसके लिए सभी एसडीएम, जनपद सीईओ एवं तहसीलदार को अपने क्षेत्र की पंचायतों का सेक्टर बनाकर निरीक्षण करने के निर्देश दिये गये। राजस्व अधिकारियों को अपने क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने, भू-माफिया एवं अवैध कालोनाईजरों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। जिला पेंशन अधिकारी को सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लंबित पेंशन प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये गये।

     स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को 17 से 19 जनवरी 2021 तक चलने वाले पल्स पोलियो अभियान के लिए तैयार करने एवं इसका व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही जिले के अधिक से अधिक पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने के निर्देश भी दिये गये। जिले में अधिक से अधिक शासकीय भवनों में सौर उर्जा का उपयोग करने के लिए सोलर सिस्टम लगाने के निर्देश दिये गये। बैठक में सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की भी समीक्षा की गई और अधिकारियों को ऐसे प्रकरणों का त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिये गये।

Post a Comment

0 Comments