वन विभाग व पुलिस टीम पर हुवे हमले का जायजा लेने, डीआईजी ओर एसपी ने किया घटनास्थल का दौरा | Van vibhag va police team pr huve hamle ka jayza lene

वन विभाग व पुलिस टीम पर हुवे हमले का जायजा लेने, डीआईजी ओर एसपी ने किया घटनास्थल का दौरा

वन विभाग व पुलिस टीम पर हुवे हमले का जायजा लेने, डीआईजी ओर एसपी ने किया घटनास्थल का दौरा

बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - नेपानगर क्षेत्र में जंगलोें की कटाई लगातार हो रही है। वन माफियाओं के साथ अतिक्रमणकर्ता प्रशासन पर हावी हैं। एक दिन पहले घाघरला वन क्षेत्र में वन विभाग और पुलिस टीम पर हमला किया गया था। इसके दूसरे दिन डीआईजी खरगोन रेंज तिलक सिंह, बुरहानपुर एसपी राहुल कुमार लोढा के साथ रविवार दोपहर एक बजे घटनास्थल देखने पहुंचे, लेकिन यहां नजारा बदला हुआ था।

अतिक्रमण क्षेत्र से करीब एक कि.मी. पहले ही अतिक्रमणकर्ताओं ने करीब 50 से अधिक सागौन और अन्य प्रजातियों के पेड़ रातों-रात काटकर डाल दिए तो वहीं जगह-जगह पत्थर भी पड़े नजर आए। जब अफसर यहां पहुंचे तो उन्हेें अपने वाहन लगभग एक किमी. दूर ही खड़े करके घटनास्थल पैदल जाना पड़ा। 

डीआईजी ने कहा अतिक्रमणकर्ताओं के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही करेंगे। डीआईजी तिलक सिंह और एसपी राहुल कुमार लोढा ने दूर से ही टेकड़ी पर बनी टपरियां देखी और वापस लौट आए।

इससे पूर्व डीआईजी तिलक सिंह ने रविवार सुबह जिला अस्पताल बुरहानपुर पहुंचकर अतिक्रमणकारियों के हमले से घायल वन और पुलिस कर्मियों का हाल जाना। उन्होंने घायल कर्मचारियों से पूरी स्थिति समझी और उनकी समस्याएं भी जानी। उन्हें भरोसा दिलाया गया कि हमला करने वालों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा।

यह है मामला

गौरतलब है कि एक दिन पहले घाघरला में वन अमला, पुलिस और एसएफ जवानों के साथ घाघरला वन क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने गया था। ओर अतिक्रमण कारियो ने हमला किया था। जिसमे 28 कर्मी घायल हुए हैं।

डीआईजी से ग्रामीणों ने कहा अतिक्रामक देते हैं धमकी

इधर, ग्राम घाघरला में ग्रामीण अधिकारियों के आने का इंतजार कर रहे थे। अफसरों ने ग्रामीणों से चर्चा कर उन्हें अाश्वासन दिया कि आज तक इतनी बड़ी कार्यवाही नहीं हुई है। डीआईजी और एसपी के सामने ग्राम घाघरला के लोगों ने कहा कि अतिक्रमणकर्ता हमें धमकी देते हैं। दो दिन पहले ही उन्हें खुली धमकी दी कि दीपावली मना लो फिर बताएंगे कि तुम जंगल बचाने के लिए कितने आगे आते हो।

अब तक जानकारी अनुसार पुलिस ने 28 नामजद और अन्य आरोपितों के खिलाफ हत्या का प्रयास और लूट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

Post a Comment

0 Comments