दिवाली की पूर्व संध्या पर आयोजित की गई रंगोली प्रतियोगिता | Diwali ki purv sandhya pr ayojit ki gai rangoli pratiyogita

दिवाली की पूर्व संध्या पर आयोजित की गई रंगोली प्रतियोगिता

दिवाली की पूर्व संध्या पर आयोजित की गई रंगोली प्रतियोगिता

बोरगांव (चेतन साहू) - शनिवार को संयुक्त रूप से दीपावली की पूर्व संध्या पर मध्यप्रदेश मीडिया संघ के तत्वावधान में नंदा कालोनी बोरगांव में औरंगोली प्रतियोगिता  का आयोजन किया गया। सभी बच्चों ने अपनी-अपनी पसंद के बालिकाओं को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने को प्रेरित करते हुए रंगोली का प्रदर्शन किया। जिसमें बच्चों ने आकर्षक रंगोली बनाकर दीपावली का स्वागत किया और नंदा कालोनी परिसर को खुशनुमा बना दिया। प्रतियोगिता में शामिल 40 बच्चों को ताजुब मोहब्बे द्वारा बिस्किट पैकेट बांटे गए। 

दिवाली की पूर्व संध्या पर आयोजित की गई रंगोली प्रतियोगिता

 प्रतियोगिता में पहला स्थान वर्षा साहू, दूसरा निशा बोरीकर, तीसरा तनु विश्वकर्मा चौथा पूनम पाल को अतिथि विनायक भकने, मोनाली भकने, ताजू मोहब्बे के हस्ते पुरस्कार वितरण किया गया।

अतिथि ताजू मोहब्बे ने बच्चों एवं पालको को दीपावली की शुभकामना देते हुए कहा कि दीपावली प्रकाश का त्योहार है, जो जीवन को प्रकाशमय बनाता है। जीवन में छाए हुए अंधेरों को दूर भगाने लिए प्रेरित करता है।

इस मौके  विनायक भकने ने दीपावली और रंगोली के महत्व को बताते हुए कहा कि दीपावली के अवसर पर रंगोली बनाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। रंगोली उत्साह व आधुनिकता का प्रतीक है।  जिस समय लोगों के पास इतने आकर्षक रंग नहीं थे तब वे मिट्टी के विभिन्न रंगों से अपने घरों व दीवारों पर रंगोली बनाकर साफ-सफाई व पवित्रता की पहचान देते थे। 

मोनाली भकने ने बच्चों की रंगोली की प्रशंसा की और सभी को दीपावली की शुभकामनाएं दी।

Post a Comment

0 Comments