नवरात्रि के पांचवे दिन निकलती है झंडा फेरी | Navratri ke panchve din nikalti hai jhanda fary

नवरात्रि के पांचवे दिन निकलती है झंडा फेरी

नवरात्रि के पांचवे दिन निकलती है झंडा फेरी

बैतूल (यशवंत यादव) - आमला नवरात्रि के इस पावन पर्व पर पूरे ब्लाक में जगह जगह माता की प्रतिमा विराजमान है वही ग्राम रतेड़ा के बस स्टैंड पर विराजमान माता की प्रतिमा की बात करे तो माता की प्रतिमा का रूप इतना सुंदर है देखने से ऐसा लगता है मानो माँ साक्षात सामने विराजी है और माता का पंडाल में  झांकी को भी इतना सुंदर बनाया गया है की इस झांकी के मनोरम दृश्य को देखने के लिए रास्ते से अगर कोई गुजरता है तो मानो उनकी गाड़ी के पहिये खुद ही थम जाते है।सुबह और शाम माता की आरती होती है जिसमे पूरा गांव एक जुट हो कर शोसल डिस्टेंसिंग का पालन हुए माँ की आरती करते है गांव के सरपंच पति आंनद यादव ने बताया कि वर्षो से चली आई परंपरानुसार नवरात्रि के पांचवे दिन झंडा फेरी की जाती है जिसमे माता के नाम का झंडा ले कर समस्त भस्तजन पूरे गाँव का भ्रमण करते हुए गांव की चंडी मैया और खेड़ापति वाली माँ के मंदिर पहुच कर झंडा लगा कर माँ से पूरे साल गांव की रक्षा की कामना करते है, बुधवार शाम को भी आरती के पश्चात रतेड़ाकलां में झंडा फेरी बड़े धूमधाम से बाजेगाजे के साथ निकली गई जिसमें बहुत संख्या में गाँव के भक्तजन उपस्थित हुए।

नवरात्रि के पांचवे दिन निकलती है झंडा फेरी





Post a Comment

0 Comments