नाबालिक लड़की के साथ हुआ दुस्साहस का पर्दाफाश करने वाले पत्रकारों पर जानलेवा हमला और जान से मारने की धमकी | Nabalig ladki ke sath hua dussahas ka pardafash krne wale patrakro pr janleva hamla

नाबालिक लड़की के साथ हुआ दुस्साहस का पर्दाफाश करने वाले पत्रकारों पर जानलेवा हमला और जान से मारने की धमकी

नाबालिक लड़की के साथ हुआ दुस्साहस का पर्दाफाश करने वाले पत्रकारों पर जानलेवा हमला और जान से मारने की धमकी

उज्जैन (रोशन पंकज) - उज्जैन नाबालिक लड़की के साथ 3 लड़कों ने दुस्साहस किया और उसे रात भर बंधक बनाकर कोटरी में रखा बंधक बनाने वाले आरोपी मानसरोवर कॉलोनी के चौकीदार जिन्होंने वारदात की रात ही को वहां से चौकीदारी छोड़ दी थी फिर चौकीदार के चचेरे भाई दो वहां मानसरोवर कॉलोनी में चौकीदारी करने के लिए रात को पहुंचे तभी उन्होंने रात में शराब का सेवन किया और नाबालिक लड़की जोकि रात को बाथरूम करने के लिए घर से बाहर निकली तो उसे जितेंद्र नामक आदमी हाथ पकड़ मुंह दबाकर उसे उस कोठरी में लेकर गया और वहां दोनों लड़कों के सुकरात नाबालिक लड़की को छोड़ दिया लड़की के माता पिता को यहां पता ही नहीं था कि वहां पर कोई नया चौकीदार आया है लड़की के पिता जोकि खेती के सिलसिले में उनके गांव धूप वाला गए थे उसी रात को उनकी 12 साल की नाबालिक लड़की के साथ यह दुष्कर्म हुआ जिसको लेकर वह बहुत परेशान है और उस मकान के मालिक मोहित लालवानी ने लड़की के माता-पिता को पैसे देकर खरीदने की कोशिश की उनसे कहा कि आप रिपोर्ट ना डालें आपको जितने भी पैसे चाहिए हम आपको दे देंगे फिर नीलगंगा थाने के जो घूसखोर पुलिस स्पेक्टर जोकि मोहित लालवानी से पैसे लेकर दोनों लड़के का मामला रफा-दफा कर दीया लड़की के मेडिकल रिपोर्ट की जानकारी मैं बताया की लड़की के साथ कोई दुष्कर्म नहीं हुआ लेकिन लड़की के माता-पिता इस बात से संतुष्ट नहीं है की लड़की के साथ कुछ गलत नहीं हुआ लड़की के माता-पिता का कहना है कि मेडिकल रिपोर्ट में पुलिस वालों ने कोई छेड़छाड़ की है क्योंकि मोहित लालवानी जिसे जैसे बड़े लोग जोकि पैसे से गरीबों को खरीदने निकले हैं तो यह समाज के सबसे बड़े दुश्मन जोकि है पत्रकारों को भी धमकी दे रहे हैं की अगली बार से हमारे मामले में कोई दखल देने की कोशिश की है तो यही दफन करवा दूंगा हमारे पत्रकार बंधु जोकि लड़की के मामले को लेकर मोहित लालवानी और उनके पिता का वर्जन लेने गए तो उन्हें मोहित लालवानी के पिता जोकि सिंधी समाज के कोषाध्यक्ष के पद पर नियुक्त हैं वह अपनी पदवी का गलत उपयोग कर रहे हैं जिससे हमारे पत्रकार बंधुओं को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ा आज हमारे पत्रकार बंधु जोकि पीड़ित है हम पूछते हैं कि किसी गरीब परिवार को न्याय दिलाना कौन सा गुनाह है जिसकी सजा हमारे पत्रकार बंधुओं को भोगना पड़ी।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News