मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है | Mehnat krne walo ko safalta awasya milti hai

मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है

बेटियां तरक्की करें और अपने परिवार व देश का नाम रोशन करें

सांसद श्री फिरोजिया अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के दो दिवसीय बालिका महोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए

मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है

उज्जैन (रोशन पंकज) - उज्जैन-आलोट संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री अनिल फिरोजिया रविवार 11 अक्टूबर को दोपहर में कीर्ति मन्दिर में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अन्तर्गत अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर दो दिवसीय बालिका महोत्सव कार्यक्रम के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है। बेटियां तरक्की करें और अपने परिवार, समाज व देश का नाम रोशन करें। बेटों के साथ-साथ बेटियां भी पढ़ाई, खेल के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों में पीछे नहीं है। बेटियां ईमानदारी से अपने लक्ष्य को पूरा करती हैं। आगे बढ़ने के लिये संघर्ष करना पड़ता है, तभी लक्ष्य को पूरा कर पाते हैं।

मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है

मेहनत करने वाले कभी हारते नहीं


सांसद श्री अनिल फिरोजिया ने कहा कि मंजिल पाने के लिये किसी को घबराने की जरूरत नहीं। निरन्तर प्रयास करने से एक दिन उन्हें अवश्य सफलता मिलती है। मेहनत करने वाले कभी हारते नहीं। हमारे लिये कोई भी आइकॉन हो सकता है। आगे बढ़ने वालों से हमें भी सीख लेकर आगे बढ़ना चाहिये। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान बेटियों को आगे बढ़ने के लिये हरसंभव प्रयास कर रहे हैं और उनके एजेण्डे में भी बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ है। देशव्यापी अभियान प्रधानमंत्री ने चलाया है। अभियान शुरू करने के साथ-साथ इसमें बालिका के जन्म को जश्न के रूप में मनाने के साथ उसे शिक्षा ग्रहण करने में सक्षम बनाने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभियान का मुख्य उद्देश्य लड़कियों का जन्म, पोषण और शिक्षा बिना किसी भेदभाव के हो और समान अधिकारों के साथ वे देश की सशक्त नागरिक बेटियां बन सकें।

मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है

बालिकाओं की शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं सम्मान पर विशेष ध्यान


कार्यक्रम का स्वागत भाषण महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री गौतम अधिकारी ने दिया और बालिका महोत्सव कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि बालिकाओं की लिंगानुपात में कमी होने के कारण सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम प्रत्येक जिले के साथ-साथ उज्जैन जिले में भी यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है। कार्यक्रम का उद्देश्य बालिकाओं की शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं सम्मान पर विशेष ध्यान देकर कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग के उप संचालक डॉ.मंजुला तिवारी ने भी बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अन्तर्गत बालिका महोत्सव के कार्यक्रम पर प्रकाश डाला।


सांसद श्री फिरोजिया ने प्रतिभावान बालिकाओं को सम्मानित किया


कार्यक्रम में सांसद श्री अनिल फिरोजिया ने अन्तर्राष्ट्रीय बालिका महोत्सव के तहत 10वी एवं 12वी की परीक्षा में 90 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित करने पर जिले में प्रथम, द्वितीय एवं चतुर्थ स्थान प्राप्त करने वाली प्रतिभावान बालिकाओं को अभिनन्दन-पत्र देकर उन्हें सम्मानित किया। इसी तरह सांसद ने रोप मल्लखंब में स्वर्ण, रजत, कांस्य पदक प्राप्त करने तथा नृत्य-गायन में उत्कृष्ट प्रदर्शन तथा बालिका गृह की बालिका ने गायन में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर अभिनन्दन-पत्र देकर सम्मानित किया गया।


कार्यक्रम के प्रारम्भ में मुख्य अतिथि ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उप संचालक डॉ.मंजुला तिवारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री गौतम अधिकारी, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री साबिर अहमद सिद्धिकी, सहायक संचालक श्री गुरूदत्त पाण्डेय, श्रीमती झनक सोनाने, कु.प्रिया ने मुख्य अतिथि का पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। स्वागत गीत डॉ.सिंधु पानड़ीवाल, डॉ.जयन्त कोराने द्वारा प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन विधि सह परीवीक्षा अधिकारी सुश्री प्रियंका त्रिपाठी ने किया।

Post a Comment

0 Comments