विपदा में भी भ्रष्टाचार गरीबों को बांट दिया जानवरों वाला चावल | Vipda main bhi bharshtachar garibo ko bant diya janvaro wala chawal

विपदा में भी भ्रष्टाचार गरीबों को बांट दिया जानवरों वाला चावल

विपदा में भी भ्रष्टाचार गरीबों को बांट दिया जानवरों वाला चावल

भोपाल (संतोष जैन) - मध्य प्रदेश में सरकारी तंत्र की गंभीर लापरवाही सामने आई है कोरोना महामारी के समय गरीबों को सरकारी राशन दुकानों से भेड़ बकरियों के खाने योग्य चावल बाट दिया गया इसका खुलासा खाद्य मंत्रालय द्वारा खाद्य विभाग के प्रमुख सचिव को लिखे पत्र से हुआ है यह गड़बड़झाला आदिवासी जिला मंडला और बालाघाट में सामने आया है केंद्र सरकार की टीम ने इन जिलों में वेयर हाउस और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत संचालित राशन दुकानों से चावल के 32 सैंपल 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच लिए थे जांच दिल्ली की सीजीएल लैब में लैब सार्क देशों के लिए भी बेहतर मानी जाती है जांच रिपोर्ट में बताया गया कि जिन चावल के सैंपल लिए गए वह इंसानों के खाने लायक नहीं है राशन दुकानों को जो चावल सप्लाई किया गया है पोल्ट्री रेट का था 

प्रदेश के खाद्य मंत्री बिसाहू लाल साहू ने कहा कि सरकार गरीबों के साथ खिलवाड़ करने वालों को छोड़ेगी नहीं लापरवाही करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी

Post a Comment

0 Comments