रंगमंच का निर्माण अधूरा | Rang manch ka nirman adhura

रंगमंच का निर्माण अधूरा

रंगमंच का निर्माण अधूरा

डिंडौरी (पप्पू पड़वार) - जिले के आदिवासी बाहुल्य जनपद पंचायत समनापुर अंतर्गत ग्राम पंचायतों के सरपंच सचिव द्वारा मनमानी करते हुए गांव के विकास के लिए चलाई जा रही जनहितैषी कार्यों में लापरवाही बरतने का कार्य करते हुए योजनाओं के लिए मिल रही राशि को बंदरबांट कर गांव को तरक्की के राह से दूर रखने का कार्य कर रहे हैं। वहीं सरपंच सचिव की दबंगाई के चलते भोले भाले ग्रामीण आवाज उठाने से भी डरते हैं,कोई आवाज उठाता भी है तो प्रशासन की सुस्त और धीमी रफ्तार में आवाज दब जाती है।यही वजह है की सरपंच सचिव किसी की नहीं सुनते और आदिवासी ग्रमीणों के भोलेपन का खुब फायदा उठा रहे हैं ।

मामला ग्राम पंचायत पड़रिया के पोषक ग्राम धनौली का है जहां राज्य वित्त आयोग योजना के तहत दो साल पहले रंगमंच का निर्माण किया जाना था लेकिन जवाबदारों ने पूर्ण राशि आहरित करते हुए निर्माण कार्य को आधा अधूरा छोड़ दिया है । रंगमंच के लिए दो लाख रुपए स्वीकृत हुए थे, रंगमंच निर्माण एजेंसी ग्राम पंचायत स्वयं है। ग्राम पंचायत पड़रिया के सरपंच सचिव द्वारा  लापरवाही बरतने से आधे अधूरे रंगमंच की स्थिति जर्जर हो गई है एवं दीवारें गिरने के कगार पर है। ग्रामवासियों ने इन विषय पर उच्चाधिकारियों को लिखित आवेदन दिया था किन्तु अधिकारियों की और से ऐसे लापरवाह व्यक्तियों पर आजतलक किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिससे ऐसे लोगों के हौसले बुलंद हैं एवं  जिले के उच्चाधिकारियों की छवि प्रभावित हो रही है ।

Post a Comment

0 Comments