पबजी गेम की लत ने नाबालिग बेटे को ही बना दिया पिता का गुनाहगार | PUBG game ki lat ne nabalig bete ko hi bana diya pita ka gunahgar

पबजी गेम की लत ने नाबालिग बेटे को ही बना दिया पिता का गुनाहगार

पेटीएम ऐप से पिता के अकाउंट से उड़ाए 71 हजार रुपये


बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - सोशल मीडिया पर आए दिन धोखाधड़ी के कई मामले सामने आए हैं कुछ लोगों द्वारा धोखाधड़ी करके अकाउंट से लाखों रुपए हड़पने के समाचार मिलते रहते हैं, वही बुरहानपुर जिले में एक बेटे ने भी अपने पिता के अकाउंट से धोखाधड़ी करके हजारों रुपए निकाल लिए। जानकारी के अनुसार लालबाग निवासी राजेश तंतुवाय निवासी थाना लालबाग में शिकायत दर्ज कराई कि उनका खाता पंजाब नेशनल बैंक की शनवारा शाखा में है। उनके अकाउंट में विगत 5 माह की मानदेय राशि 1 लाख 41 हजार जमा हुए थे। जब उन्होंने बैंक में जाकर पासबुक में एंट्री करवाई तो पता चला कि उक्त खाते से अज्ञात व्यक्ति द्वारा अलग-अलग दिनांक में 71000 रुपये धोखाधड़ी करके निकाल लिए है। रिपोर्ट पर थाना लालबाग द्वारा अपराध क्र 492/20 धारा 379 भादवि एवं 66(ग) आईटी एक्ट का पंजीबध्द कर विवेचना हेतु थाना प्रभारी गणपती नाका को दिया गया। पुलिस अधीक्षक बुरहानपुर राहुल कुमार लोढा द्वारा ऑनलाइन पेटीएम फ्राड का मामला होने से शीघ्र पतारसी एवं निर्देश दिये।

विवेचना के दौरान पता लगाया गया कि फरियादी का ही नाबालिग बेटा पब्जी गेम खेलने का आदि है। जो अपने दोस्तों को घर पर बुलाकर उनके मोबाइल से अपने पिता के डेबिट कार्ड का उपयोग करके पेटीएम एप के द्वारा रूपये ट्रांसफर कर लेता था एवं पेटीएम से पब्जी गेम में पैसा ट्रांसफर कर अपने पिता के मोबाइल में आये ओटीपी को डिलीट कर देता था। इस प्रकार नाबालिक बेटे द्वारा कई महीने तक यह सिलसिला चलता रहा। जिसमें कुल 71000 रुपये नाबालिक द्वारा गेम में उड़ा दिए गए। संपूर्ण कार्य में निरीक्षक केपी धुर्वे, उपनिरीक्षक विक्रम सिंह बामनिया (प्रभारी साइबर सेल) सहायक उप निरीक्षक दिलीप सिंह, प्रधान आरक्षक तारक अली, आरक्षक गगन एवं दुर्गेश पटेल की भूमिका रही।

बुरहानपुर पुलिस ने ऑनलाइन फ्रॉड एवं चोरी, लूट को पकड़ने के लिए अपना फोकस रखा है साथ ही मोबाइल चोरी एवं मोबाइल खोने संबंधीत आवेदन को भी प्राथमिकता से लिया है। बुरहानपुर सायबर सेल ने जून 2019 से अगस्त 2020 के दौरान गुम हुये 30 मोबाईल को भी ढूंढ़ लिया गया है। सभी मोबाईल आवेदन कर्ता को आज दोपहर 1 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय बुलाया गया है। जहां पर बुरहानपुर पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढा द्वारा गुम मोबाइल को उनके धारक को लौटाया जायेगा।

Post a Comment

0 Comments