पीजी कालेज को यूनिवर्सिटी बनाने एवं लामता कालेज भवन निर्माण को लेकर मंत्री कावरे ने उच्च शिक्षा मंत्री से की भेंट | PG college ko university banane evam lamta college bhavan nirman

पीजी कालेज को यूनिवर्सिटी बनाने एवं लामता कालेज भवन निर्माण को लेकर मंत्री कावरे ने उच्च शिक्षा मंत्री से की भेंट

पीजी कालेज को यूनिवर्सिटी बनाने एवं लामता कालेज भवन निर्माण को लेकर मंत्री कावरे ने उच्च शिक्षा मंत्री से की भेंट

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - परसवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर संकल्पित राज्यमंत्री आयुष (स्वतंत्र प्रभार) एवं जल संसाधन रामकिशोर “नानो’’ कावरे ने 08 सितम्बर को भोपाल में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव से भोपाल मे उनके निवास मे भेंट कर शासकीय जटाशंकर त्रिवेदी स्नातकोत्तर महाविद्यालय बालाघाट का उन्नयन कर विश्वविद्यालय बनाए जाने एवं शासकीय महाविद्यालय लामता के भवन निर्माण का कार्य कराए जाने की मांग की।

पीजी कालेज को यूनिवर्सिटी बनाने एवं लामता कालेज भवन निर्माण को लेकर मंत्री कावरे ने उच्च शिक्षा मंत्री से की भेंट

     मंत्री श्री कावरे ने उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव को अवगत कराते हुए बताया कि शासकीय जटाशंकर त्रिवेदी स्नातकोत्तर महाविद्यालय बालाघाट की स्थापना 1958 में हुई थी। तब से महाविद्यालय ने शनै: शनै: प्रगति की है और इसमें  विभिन्न संस्थाओं का संचालन हो रहा है। बढ़ती जनसंख्या एवं उच्च शिक्षा के प्रति लगन के कारण विद्यार्थियों की संख्या में उत्तरोत्तर वृद्धि हुई है।  परंतु विश्वविद्यालय ना होने के कारण विद्यार्थियों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है खासकर पीएचडी एवं नवीन संकाय जैसे कोर्स करने वाले विद्यार्थी हताश एवं परेशान होते हैं। महाविद्यालय के कर्मचारियों को बार-बार जिले के बाहर जाना पड़ता है जिससे कार्य प्रभावित होता है।

     मंत्री श्री कावरे ने बताया कि विश्वविद्यालय की स्थापना किए जाने से बालाघाट जिले के छात्रों को उच्च शिक्षा के नए अवसर प्राप्त होंगे बालाघाट जिला आदिवासी बाहुल्य एवं नक्सल प्रभावित क्षेत्र है। नई शिक्षा नीति 2020 में नए विश्वविद्यालयों की स्थापना की बात की गई है उसी क्रम में श्री कावरे ने बालाघाट जिले के शासकीय जटाशंकर त्रिवेदी स्नातकोत्तर महाविद्यालय का उन्नयन कर विश्वविद्यालय बनाए जाने की मांग की, साथ में परसवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले शासकीय महाविद्यालय लामता जो कि भवन विहीन है उसके भवन निर्माण संबंधी मांग भी रखी। जिस पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव ने सकारात्मक कदम उठाने का आश्वासन दिया। मंत्री श्री कावरे को उन्होंने बधाई दी कि इतनी कम उम्र में अपने क्षेत्र के विकास के लिए इतने चिंतित हैं। मंत्री श्री कावरे ने कहा कि जब तक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय का उन्नयन कर विश्वविद्यालय की स्थापना नहीं की जाती है तब तक वह शांत नहीं बैठेंगे हर मोर्चे पर इसके लिए प्रयास करेंगे।

Post a Comment

0 Comments