महिला स्व-सहायता समूह बनेंगे सशक्त | Mahila swa sahayat samuh banege sashakt

महिला स्व-सहायता समूह बनेंगे सशक्त

जिले में 158 समूहों को 1 करोड 60 लाख रुपए ऋण सहायता दी गई

महिला स्व-सहायता समूह बनेंगे सशक्त

रतलाम (युसूफ अली बोहरा) - गरीब कल्याण सप्ताह के अन्तर्गत म.प्र. के साथ ही रतलाम जिले में भी महिला स्व-सहायता समूहों को लाभान्वित करने का कार्य किया गया। रविवार को रतलाम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समूहों को बैंक ऋण चेक अतिथियों के हाथों मिले। जिले के 158 समूहों को 1 करोड 60 लाख रुपए की बैंक ऋण राशि वितरित की गई। इसका उपयोग समूह की सदस्य महिलाएं अपने तथा परिवार के जीवन स्तर सुधार मे करेंगी। इस अवसर पर रतलाम ग्रामीण विधायक श्री दिलीप मकवाना, जिला पंचायत प्रधान श्री परमेश मईड़ा, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री संदीप केरकेट्टा, सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया के क्षेत्रीय प्रबंधक श्री रामकृष्ण नाईक, बैंक आफ बडौदा के मुख्य प्रबंधक श्री सुरेन्द्रसिंह लाठर, ग्रामीण बैंक के वरिष्ठ प्रबंधक श्री निरंजन गर्ग, एनआरएलएम शाखा जिला पंचायत के श्री हिमांशु शुक्ला आदि उपस्थित थे।

रतलाम जिले के सभी विकासखण्डों एवं बैंक शाखाओं में भी कार्यक्रम आयोजित हुए। रतलाम कलेक्ट्रेट में आयोजित कार्यक्रम में विकासखण्ड रतलाम के 9 समूहों की 47 महिला सदस्यों द्वारा भागीदारी की गई। उनको 9 लाख रुपए ऋण राशि प्रदान की गई। इस दौरान भोपाल से राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के उद्बोधन का लाइव प्रसारण देखा व सुना गया।

विकासखण्ड स्तरीय ऋण वितरण कार्यक्रमों में भी स्थानीय जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे, जिनके हाथों से समूहों को ऋण प्रदान किया गया। विकासखण्ड आलोट में 41, बाजना में 38, जावरा में 17, पिपलौदा में 20, सैलाना में 19, रतलाम में 23 स्व-सहायता समूहों को ऋण वितरित किया गया। इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम में बैंक आफ बडौदा द्वारा 16, बैंक आफ इंडिया द्वारा 25, सेन्ट्रल बैंक आफ इडिया द्वारा 30, स्टेट बैंक आफ इंडिया द्वारा 18 तथा म.प्र. ग्रामीण बैंक द्वारा 62 समूहों को ऋण उपलब्ध कराया गया।

Post a Comment

0 Comments