जवाहर नवोदय विद्यालय में हिन्दी पखवाड़े का हुआ शुभारंभ | Jawahar navoday vidhyalaya main hindi pakhwade ka hua shubharambh

जवाहर नवोदय विद्यालय में हिन्दी पखवाड़े का हुआ शुभारंभ

स्व. पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी को सामूहिक श्रद्धांजली दी गई

जवाहर नवोदय विद्यालय में हिन्दी पखवाड़े का हुआ शुभारंभ

अलीराजपुर। (रफीक क़ुरैशी) - जवाहर नवोदय विद्यालय में हिन्दी पखवाड़े का शुभारंभ समारोहपूर्वक किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नगर राजभाषा क्रियान्वयन समिति के समन्वयक अग्रणी जिला प्रबंधक सौरभ जैन थे। विशेष अतिथि सामाजिक कार्यकर्ता एवं एडवोकेट सुधीर जैन थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता नवोदय प्राचार्य सुभाष महोबीया ने की। कार्यक्रम का प्रारम्भ अतिथियों ने वरिष्ठ साहित्यकार मंुषी प्रेमचंद के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन कर किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अग्रणी जिला प्रबंधक श्री जैन ने कहा कि हमारा क्षेत्र हिन्दी ‘‘क’’ क्षेत्र होने से क्षेत्र में अधिक से अधिक कार्य हिन्दी में किया जाना चाहिए। साथ ही शासकीय पत्रों व जनसामान्य के हिन्दी पत्रों का जवाब भी हिन्दी में ही दिया जाना चाहिए। उन्होंने हिन्दी के महत्व को रेखांकित किया। प्राचार्य श्री महोबीया ने कहा कि जिले में हिन्दी की अलख जगाने का सामूहिक प्रयास किया जायेगा समन्वित रूप में विद्यालय से भी इस ओर उद्देष्यपूर्ण कार्य किए जावेंगे। उन्होंनेे कहा कि हिन्दी का प्रचार-प्रसार व महत्व स्वयंसिद्ध है। श्री महोबीया ने अनके उदाहरण देकर इसे प्रतिपादित भी किया। विषेष अतिथि सुधीर जैन ने कहा कि हिन्दी भारत देष के नागरिकों की सम्पर्क भाषा बन गई है। श्री जैन ने उपन्यासकार कथासम्राट मंुषी प्रेमचंद के साहित्य का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रेमचंदजी ने अपने दिल की स्याही से साहित्य की रचना की है जो बहुत मर्मस्पर्षी व कालजयी है। इस अवसर पर स्नाकोत्तर हिन्दी षिक्षक एवं कार्यक्रम संयोजक राजकुमार मीणा ने स्वागत भाषण करते हुए हिन्दी पखवाड़े के दौरान आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए बताया कि हिन्दी दिवस 14 सितम्बर को एक गरिमामयी काव्य गोष्ठी भी आयोजित की जावेगी जिसमें स्थानीय कवि-शायर षिरकत करेंगें। कार्यक्रम को स्नाकोत्तर भौतिक विज्ञान के वरिष्ठ षिक्षक नवीन कुमार ने भी संबोंधित कर धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम के अंत में पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के निधन पर वक्ताओं ने उनके राष्ट्र को दिए गए अविस्मरणीय योगदान को याद कर दो मिनट का सामूहिक मौन रखकर भावभीनी श्रद्धांजलि भी अर्पित की। कार्यक्रम में नवोदय विद्यालय के समस्त षिक्षक एवं कार्यालयीन कर्मचारी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments