भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई | Bhartiya jansangh ke santhapak pandit dindayal upadhyay ki jayanti manai

भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई

भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई

पीथमपुर (प्रदीप द्विवेदी) - पीथमपुर एकात्म मानववाद के प्रणेता भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती स्थानीय भाजपा कार्यालय पर मनाई गई, अर्थशाष्त्री, समाजशाष्त्री, इतिहासकार पत्रकार थे।पंडित जी। उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के निर्माण में महत्वपूर्ण भागीदारी निभाई । भारतीय जनसंघ (वर्तमान, भारतीय जनता पार्टी) के अध्यक्ष भी बने. इन्होने ब्रिटिश शासन के दौरान भारत द्वारा पश्चिमी धर्मनिरपेक्षता और पश्चिमी लोकतंत्र का आँख बंद कर समर्थन का विरोध किया।  उन्होंने लोकतंत्र की अवधारणा को सरलता से स्वीकार कर लिया, लेकिन पश्चिमी कुलीनतंत्र, शोषण और पूंजीवादी मानने से साफ इनकार कर दिया था।  अपना जीवन लोकतंत्र को शक्तिशाली बनाने और जनता की बातों को आगे रखने में लगा दिया।उपरोक्त विचार भाजपा नगर अध्यक्ष गणेश जायसवाल ने व्यक्त कर पंडित दीनदयाल जी के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला। उनके विचारों को अपने जीवन में समाहित करने का सभी ने संकल्प लिया ।इस अवसर पर ,भाजपा वरिष्ठ नेता संजय वैष्णव , नंदकिशोर वर्मा,रंजीत ठाकुर राजेश पांडेय, मुकेश पटेल  कुंदन पंवार सुभाष जायसवाल सी डी पाटील,संजय सोनी, कैलाश सोलंकी, बालाराम मीणा शुभम पाराशर,मांगीलाल पथरिया पंकज पुरी राम बिरला आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments