बेटी ने निभाया बेटे का फर्ज पिता को दी मुखाग्नि | Beti ne nibhaya bete ka farz pita ko di mukhagini

बेटी ने निभाया बेटे का फर्ज पिता को दी मुखाग्नि 

बेटी ने निभाया बेटे का फर्ज पिता को दी मुखाग्नि

पीथमपुर (प्रदीप द्विवेदी) - पीथमपुर औद्योगिक नगरी  शुक्रवार 4 सितंबर को क्षेत्र में बेटी ने साहस दिखाते हुए अनुकरणीय पहल की है। बेटी ने पिता को मुखाग्नि देकर बेटे का फर्ज निभाया है।

दरअसल, ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसी बातें होती हैं कि बेटा कुल का दीपक होता है, बेटे के बिना माता-पिता को मुखाग्नि कौन देगा? लेकिन अब यह बातें अब बीते जमाने की हो गई, यह साबित किया है पिथमपुर की बेटी ने।  शुक्रवार को ऐसी ही पुरानी कुरीति एक बार फिर टूटी। बड़ी बेटी  दीक्षा ने पिता को न सिर्फ मुखाग्नि दी बल्कि अंतिम संस्कार की हर वह रस्म निभाई, जिनकी कल्पना कभी एक पुत्र से की जाती थी।


जानकारी के अनुसार पीथमपुर की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने  दिलीप दाहिते अचानक बीमारी के चलते इलाज के दौरान  निधन हो गया। श्री दाहिते भारतीय मजदूर संघ के नेता एवं ऑटोमोबाइल की एक नामी कंपनी में कार्यरत थे, उनके निधन पर भारतीय मजदूर संघ के नेता सी डी पाटील, ओम प्रकाश प्रजापति, रिपुसूदन पांडे,दीपक  मिश्रा, कमलेश सिंह रघुवंशी, प्रेम सिंह इंदा, रूप सिंह हाडा, शांति लाल मालवीय,कालूराम चौरसिया,आरके सिंह, शिव शंकर सिंह आदि ने शोक व्यक्त किया एवं श्रद्धांजलि दी।

Post a Comment

0 Comments