सरकारी व निजी कंपनियों पर 233 करोड रुपए का बकाया | Sarkari va niji companiyo pr 233 crorw rupye ka bakaya

सरकारी व निजी कंपनियों पर 233 करोड रुपए का बकाया 


जबलपुर (संतोष जैन) - जबलपुर केंद्र और राज्य शासन तथा निजी क्षेत्र की करीब 15 कंपनियों पर ₹233 करोड़ से ज्यादा का सर्विस टैक्स एवं सेंट्रल एक्साइज बकाया है केंद्रीय माल एवं सेवा कर के तहत जबलपुर डिविजन 1 के क्षेत्राधिकार में आने वाली इन कंपनियों में ज्यादातर के प्रकरण 10 से 20 साल पुराने हैं आरटीआई के तहत मिली जानकारी में यह खुलासा हुआ है इसमें दो कंपनियों से टैक्स वसूली योग्य है बाकी की अदालत एवं ट्रिब्यूनल में विचाराधीन हैं बकायेदारों में पूर्व क्षेत्र वितरण कंपनी की अलग-अलग मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी का क्षेत्र अधिकारी कार्यालय और मध्य प्रदेश मेडिकल यूनिवर्सिटी आदि शामिल है इसी प्रकार निजी क्षेत्र की कंपनियां भी बड़े बकायेदारों में शामिल है सामाजिक कार्यकर्ता संजय ने आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी कि बीते 20 साल में एक करोड़ या उससे ऊपर वाले सेंट्रल एक्साइज और सर्विस टैक्स के केस दर्ज किए गए उनकी वर्तमान स्थिति क्या है यानी उन में राशि जमा हो गई है या वह न्यायालयों में विचाराधीन है जबलपुर डिविजन 1 कार्यालय की ओर से इस संबंध में जानकारी उपलब्ध कराई गई इसमें यह आंकड़े सामने आए हैं

Post a Comment

0 Comments