उमराख हॉस्पिटल बारडोली में एक नया इतिहास, आयुर्वेदिक चिकित्सा का अद्भुत कमाल | Umrakh hospital bardoli main ek naya itihas

उमराख हॉस्पिटल बारडोली में एक नया इतिहास, आयुर्वेदिक चिकित्सा का अद्भुत कमाल

उमराख हॉस्पिटल बारडोली में एक नया इतिहास, आयुर्वेदिक चिकित्सा का अद्भुत कमाल

*आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट से सिर्फ 5 दिन में कोरोना संक्रमित दर्दी सम्पूर्णतः ठीक हुआ*

*डॉ. अतुल देसाई आयुर्वेदाचार्य के मार्गदर्शन में सम्पूर्ण आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति अनुसार उपचार  से कोरोना वायरस से मुक्त हुए मरीज की घर वापसी*


सूरत (प्रवीण शाह) - जिले के बारडोली तहसील के उमराख गाँव में आई उमराख हॉस्पिटल्स COVID-19 पॉज़िटिव की ट्रीटमेंट के लिए भर्ती हुए व्यारा नगर के सूरज अग्रवाल उम्र 33 वर्ष की ट्रीटमेंट हॉस्पिटल्स के आयुर्वेद विभाग के कंसल्टेंट चिकित्सक डॉ अतुल देसाई के सम्पूर्ण मार्गदर्शन में सम्पूर्ण आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति अनुसार हुआ परिणामस्वरूप सिर्फ 5 दिन में ही कोरोना वायरस को हराकर सम्पूर्णतः  ठीक हो जाने से सूरज अग्रवाल को तंदुरस्त स्वास्थ्य के साथ उमराख हॉस्पिटल्स के मैनेजमेंट और डॉक्टरो ने उसके घर भेजने का घर वापसी कार्यक्रम का आयोजन किया था*

*उमराख हॉस्पिटल्स में COVID वॉर्ड में कोरोना वायरस की ट्रीटमेंट ले रहे मरीज सम्पूर्णतः जल्द से जल्द स्वस्थ हो और उसे तंदुरस्त स्वास्थ्य के साथ "घर वापसी" हो उस उद्देश्य के साथ उमराख हॉस्पिटल्स के मैनेजमेंट एवं एक्सपर्ट डॉक्टरो के टीमवर्क के संयुक्त सार्थक प्रयास के परिणाम बहुत ही अच्छे मिले*

*उमराख हॉस्पिटल्स के मैनेजमेंट द्वारा हॉस्पिटल्स में एक अलग से आयुर्वेदिक विभाग की शरु किया था जिसमें आंतरराष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त , नेशनल बेस्ट फिजीशियन का एवॉर्ड प्राप्त आयुर्वेद के विद्वद्वर्य निष्णात तजज्ञ डॉ. अतुल देसाई जो आयुर्वेद में PhD  हैं उसे स्पेशल कंसल्टेंट आयुर्वेदिक चिकित्सा के लिए नियुक्त किया*

*डॉ अतुल देसाई की उमराख हॉस्पिटल्स में सेवा मिलते ही हॉस्पिटल्स में ट्रीटमेंट ले रहे अलग अलग डिसीज से पीड़ित इन्डोर मरीजो एवं COVID - 19 से ग्रसित मरीजों को आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से ट्रीटमेंट मिलने का शरू हुआ*

*डॉ अतुल देसाई के द्वारा आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति के अनुसार हॉस्पिटल्स के इन्डोर और आउटडोर मरीजों को आयुर्वेदिक उपचार मार्गदर्शन की वजह से बहुत अच्छी राहत और दर्दो से निजात मिलने लगी* 
*डॉ अतुल देसाई ने कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों को सम्पूर्णतः स्वस्थ तंदुरुस्ती के साथ घर वापसी कार्यक्रम के अवसर पर कोरोनो ग्रसित मरीजों  की आयुर्वेदिक चिकित्सा उपचार पद्धति के विषय मे विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि आयुर्वेदिक दवाइयां*

*T-AYU-HM PREMIUM*
*सुबह  - शाम  2-0-2 टेबलेट,*

*IMMUBOOST Drop* 
*सुबह - शाम 6 -0-6  ड्रॉप गुन गुना पानी के साथ*
एवं 
*ACUPEN टेबलेट* 
*सुबह - शाम 2-0-2 टेबलेट* 
एवं
*ओनियन नास्य सॉल्यूशन का नास्य  (प्याज की भांप का नास्य) वेपोराइजर द्वारा सुबह - शाम देने का शरू किया था  साथ साथ योग्य व्यायाम, प्राणायाम करने एवं पोषक तत्वों से युक्त खुराक लेने के लिए मार्गदर्शन किया था परिणामस्वरूप  कोरोना ग्रसित मरीजों की रोगप्रतिरोधक क्षमता और शक्ति बढ़ने के साथ मजबूत होने लगी जिससे कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज जल्द से जल्द सम्पूर्णतः ठीक होने लगे*

*डॉ अतुल देसाई ने COVID-19 के विषय मे विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस श्वसनतंत्र में संक्रमण करके उपद्रव करता है*

*कोरोना वायरस के सेल पहले नाक की मेम्ब्रेन को संक्रमित करते है, बाद में  गले को संक्रमित करते हैं, बाद में फेफड़े में जाकर फेफड़े में इंफेक्शन फैलाते है,*

*फेफडे में बलगम ( कफ ) की मात्रा बढ़ जाती है, ब्रोंकाइटिस, न्यूमोनिया, फेफड़े में सूजन जैसे लक्षण दिखाई देते हैं जिससे साँस लेने में भारी दिक्कत होती हैं अतः मरीज को वेंटिलेटर पर रखना पड़ता है,*

*मानव शरीर मे फेफड़े शुद्ध प्राणवायु (purify oxygen) को रक्तकोशिका ओ के द्वारा सम्पूर्ण शरीर में पहचाने का कार्य करते हैं*

*फेफड़े की क्रियाशीलता के ऊपर जब वायरस के संक्रमण की वजह से अवरोधक दुष्प्रभाव होता हैं जिसे  रोगप्रतिरोधक क्षमता शक्ति कमजोर होती हैं,*
*फेफड़े मानव शरीर का महत्वपूर्ण अंग हैं जिसे स्वस्थ तंदुरस्त रखना अत्यंत आवश्यक हैं,*

*T-AYU-HM PREMIUM की भूमिका*

*डॉ अतुल देसाई ने उसके द्वारा संशोधित आयुर्वेदिक फॉर्म्युलेशन द्वारा निर्मित*
*T-AYU-HM PREMIUM टेबलेट के द्वारा कोरोना  वायरस से पीड़ित मरीजी को जिस तरह से राहत और दर्द से निजात मिलती है उसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि T-AYU-HM PREMIUM टेबलेट रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती हैं एवं श्वसनतंत्र की क्रिया सुचारू रूप से चले उसमे सहायभूत होती हैं, जिसे ऑक्सीजन की कमी होने नही देती एवं वायरल के संक्रमणसे रक्षा करती है, एवं Toxicity गंभीर घातक विषाक्तता को दूर करति है*

 *उमराख हॉस्पिटल्स में एडमिट कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज एवं होम आइसोलेट मरीजों की ट्रीटमेंट में*
*T-AYU-HM PREMIUM" टेबलेट असरदार और सहायभूत हुईं हैं*

*कोरोना वायरस के संक्रमण में संभवित उपचार हेतु आयुर्वेदिक फॉर्म्युलेशन युक्त*  *"T-AYU-HM PREMIUM" दवाई एवं अन्य आयुर्वेदिक दवाई के लिए*
*डॉ अतुल देसाई , डॉ हेमश्री देसाई , डॉ चिराग देसाई एवं ऋत्विज देसाई का* *संशोधनात्मक पेपर* 
*International Journal of Scientific Development and Research - IJSDR*

*(इंटरनेशनल जर्नल ऑफ साइंटिफिक डेवलोपमेन्ट एण्ड रिसर्च (IJSDR) )*
*को प्रस्तुत किये थे  जिसे IJSDR ने स्वीकार करते हुए प्रकाशित किया हैं*

*डॉ अतुल देसाई ( आयुर्वेदाचार्य)*
*गुजरात के तापी जिला के व्यारा नगर के निवासी है*
*व्यारा नगर में डॉ देसाई द्वारा धन्वंतरि क्लिनिक एवं आयुर्वेदिक हेल्थ केर एण्ड रिसर्च सेंटर संचालित हैं*
*डॉ अतुल देसाई ने बहुत सारी आयुर्वेदिक दवाईओ का संशोधन किया हैं उसमे से "T-AYU-HM PREMIUM" जो दवाई का संशोधन भी किया हैं, जो COVID-19 के मरीजों के लिए संजीवनी बन सकती हैं*
*इस संबंध में डॉ अतुल देसाई, डॉ हेमश्री देसाई, डॉ चिराग देसाई एवं ऋत्विज देसाई ने संशोधनात्मक पेपर में विस्तार से दर्शाया हैं*

Post a Comment

0 Comments