उज्जैन कलेक्टर ने माधव नगर हॉस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया | Ujjain collector ne madhav nagar hospital ka akasmik nirikshan kiya

उज्जैन कलेक्टर ने माधव नगर हॉस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया

कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज के लिए माधव नगर हॉस्पिटल आई आई टी के जैसा उत्कृष्ट - कहा  भर्ती कोरोना पॉजिटिव  मरीज ने

पी पी ई  किट  पहन कर  कोरोना पॉजिटिव वार्ड, आइसोलेशन वार्ड में जाकर भर्ती मरीजों  से चर्चा  की 

उज्जैन कलेक्टर ने माधव नगर हॉस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया

उज्जैन (रोशन पंकज) - कलेक्टर  श्री  आशीष  सिंह ने आज देर रात माधवगनगर  कोविड 19 हॉस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया ।उन्होंने अचानक अस्पताल पहुंचकर अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया ।  पी पी ई  किट  पहनकर कोरोना के नोडल अधिकारी डॉक्टर एचपी सोनानिया , माधव नगर अस्पताल के अधीक्षक डॉ भोजराज शर्मा के साथ  कोरोना पॉजिटिव वार्ड में जाकर भर्ती मरीजों से चर्चा की । उनसे उपचार के बारे में जानकारी प्राप्त की एवं उनको दे दिए जाने वाले भोजन कि  गुणवत्ता ,  साफ-सफाई आदि की व्यवस्थाओं के बारे में  जानकारी ली । 
       
उज्जैन कलेक्टर ने माधव नगर हॉस्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण किया

            माधवनगर  हॉस्पिटल में  भर्ती एक  कोरोना  पॉजिटिव  मरीज  ने कलेक्टर  से  कहा कि यहां की  व्यवस्थाएं  हर प्रकार  से उत्कृष्ट है । उसने  माधव नगर हॉस्पिटल को आईआईटी का दर्जा देते हुए कहा कि यह किसी भीआईआईटी जैसे  उत्कृष्ट  संस्थान से कम नहीं पड़ता है । कलेक्टर  ने भर्ती मरीजो  से  एक  एक  बेड पर जा कर  चर्चा की ।उनकी  दुख  तकलीफों के  बारे में  पूछा  ।  उन्होंने   मरीजो  को  दिए  जाने  वाले  उपचार  की  जानकारी  ली ।  कलेक्टर ने आइसोलेशन वार्ड में जाकर भी भर्ती मरीजों से उनका कुशलक्षेम पूछा ।


       कलेक्टर ने  अस्पताल की व्यवस्थाओं के निरीक्षण के बाद कहा है कि माधव नगर हॉस्पिटल की व्यवस्था  उत्कृष्ट है यहां के डॉक्टर लगातार मेहनत कर रहे हैं ।यहां के डॉक्टर, नर्स ,कंपाउंडर एवं अन्य स्टाफ की दिन-रात की मेहनत का फल है कि बड़ी संख्या में  माधवनगर हॉस्पिटल से   कोरोना  संक्रमण  से मुक्त होकर मरीज घर जा रहे हैं ।कलेक्टर ने कहा है कि  विगत  दिवस  तीन मरीजों की मृत्यु  गम्भीर  बीमारियों  व  संक्रमण के  कारण  हुई  है  ।   दुखद   मृत्यु में  ऑक्सीजन की   उपलब्धता  नही  होना या   विद्युत प्रवाह बाधित   होना कारण  नही    है  ।कलेक्टर ने कहा है कि  सोशल मीडिया पर  चल रही इस तरह की भ्रामक सूचनाएं  में कोई  सत्यता  नही  है । उन्होंने  कहा है कि आमजन को इस तरह की  भ्रामक सूचनाओं पर ध्यान नहीं देना चाहिए ।  कलेक्टर  ने  कहा  है  कि माधवनगर कोविड-19   हॉस्पिटल  की व्यवस्थाएं अत्यंत ही उच्च कोटि की है  और  भर्ती  मरीज यहां के उपचार से संतुष्ट हैं ।

Post a Comment

0 Comments