शहर के मोक्षधाम पहुचने बारिश में, लोगो को होती परेशानी | Shahar ke moksh daam pahuchne barish main logo ko hoti pareshani

शहर के मोक्षधाम पहुचने बारिश में, लोगो को होती परेशानी

,,,,,नपा ने डेम के नाले पर  नही बनाया रपटा,,,


शहर के मोक्षधाम पहुचने बारिश में, लोगो को होती परेशानी

आमला (यशवंत यादव) - शहर के मोक्षधाम में बारिश में लोगो को पहुचने में बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।आलम यह है कि यहां स्थित चन्द्रभागा नदी के बहने वाले नाले पर बारिश में बाढ़ चलती है और यहा रपटा नही बनने से लोगो को नाला लांघकर जाना पड़ता है ।जानकारी के मूताबिक शान्तिधाम से लगकर वर्षो पहले चंद्रभागा नदी पर डेम बनाया गया ।पानी का बहाव नीचे पाठे पर से बहकर नालों से बहता है और इसी पाठे पर  शव के लिए शेड निर्माण करवाया गया है ।शहर के लोगो द्वारा शव का अंतिम संस्कार करने नीचे बने सेड पर ही ले जाया जाता है ,दूसरी तरफ बने शेड में बोडखी व रेलवे कॉलोनी के लोग अंतिम संस्कार हेतु आते है ।नीचे चट्टान पर बने शेड में ही शहरी लोग अधिक पहुचते है ।शहर के जागरूक नागरिकों का कहना है कि बारिश के दिनों जब पानी का बहाव होता है तो लोगो को कूदकर नाला पार करना पड़ता है वर्षो पहले शहर के जागरूक नागरिकों ,व्यापारियों ,शांतिधाम समिति द्वारा श्मशान के कायाकल्प सोन्द्रीयकर्ण के लिए भरसक प्रयास किये है ।लेकिन अगर नपा या राजनेताओं की बात करे तो उनके कोई खास योगदान समझ के परे रहे है।शहर के अनिल ने बताया मोक्षधाम में  ऊपर वाले शेड तक पहुचने के लिए भी कोई इंतजाम नही है बाढ़ होने पर उस शेड पर नागरिक नही पहुच पाते है ।और नीचे बने शेड में जहा शव लाते है वहा पब्लिक के लिए बारिश व धूप से बचने आज तक कोई टीन शेड तक नही बनाया गया और न पेयजल के लिए कोई इंतजाम किए गए ।जिसके कारण गर्मी व बारिश के मौसम में शव का अंतिम शन्सकार करने आये लोगो को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है और यह सिलसिला  कई सालों से बदस्तूर जारी है ।शहर के  ,मदन ,राकेश ,अमित का कहना है कि नपा द्वारा मोक्ष धाम पर कोई व्यापक इंतजाम नही किये गए है जो भी कार्य है वह शहर के जागरूक नागरिकों द्वारा ही करवाए गए है ।

Post a Comment

0 Comments