पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक को सौंपा आवेदन | Purv vidhayak shantilal bilwal ke netritv main police adhikshak ko sopa

पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक को सौंपा आवेदन

पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक को सौंपा आवेदन

झाबुआ। (अली असगर बोहरा) - प्रदेश भर में कोरोना वायरस संक्रमण काल के चलते जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे है। वही उनके निर्देशो के अनुरूप ही सोश्यल डिस्टेसिंग का पालन एवं मुंह पर मास्क लगाने की कार्यवाही भी हो रही है। वही इन निर्देशो में ग्रामीण क्षेत्र से आये हुये लोगो को समझाने के लिये पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल, मंडल अध्यक्ष बबूल संकलेचा, छितुंिसह मेडा, मंडल महामंत्री नाना राठौर सूयीाान पारू पारगी उपस्थित होकर पुलिस अधीक्षक अशुतोष गुप्ता को आवेदन सौपा गया।

आवेदन मे बताया गया कि कोरोना संक्रमण रोग के चलते फैलने की गंभीर स्थिति को देखते हुये वर्तमान में झाबुआ जिले में बिना मास्क लगाये वाहन चलाने वालो पर आमजन से लगभग 500 रूपये की चालानी कार्यवाही की जा रही है। जिसमें श्री बिलवाल द्वारा बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्र के अधिकांश लोग मजदूरी एवं खेती करते है। वे कम शिक्षित होने के कारण कोविड-19 जैसी महामारी को समझने में थोडा हिचकिचा रहे है। वही उन्हे इसके नियमो का भी कोई ज्ञान नही है। विगत 4 से 5 माहे तक लाॅकडाउन के कारण ग्रमाीण एवं शहरी क्षेत्र के आमजन के व्यवसाय बंद थे। जिनके कारण इनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है। जिससे की आमजन के द्वारा की जा रही चालानी कार्यवाही में 500 रूपये आज की स्थिति में किसी भी व्यक्ति के लिये वहन करना असंभव सा हो गया है। आमजन की उपरोक्त परेशानियो को ध्यान में रखते हुये मास्क लगाने की अनिवार्यता का पालन कराने के लिए आमजन को जागरूक किया जावे। साथ ही आमजन से सख्ती ना बरती जाये एवं आमजन को कम से कम एक बार हिदायत समझाईश देकर छोडने के साथ ही चालान की राशि कम करने की लिये निेेवेदन किया है। इस पर पुलिस अधीक्षक ने उनकी मांगो को मानते हुये इस ओर ध्यान देकर समस्या को सुधार करने का आश्वासन दिया।

मंडल अध्यक्ष बबलू सकलेचा द्वारा बताया गया कि कोरोना संक्रमण इन दिनो संपूर्ण झाबुआ जिले को प्रभावित कर रहा है। जिसके कारण चाहे वह बच्चा हो या फिर जवान या फिर कोई वृद्ध कोई भी इससे अछुका नही है। इसके लिये जिला प्रशासन के द्वारा दिये गये निर्देशो का पालन करना जरूरी है। साथ ही सोश्यल डिस्टेसिंग ओर मुंह पर मास्क लगाकर ही घर से निकलने में ही सुरक्षा है। इसके लिये जिला प्रशासन से भी यह मांग की गई है कि ग्रामीण क्षेत्रो में जागरूकता की कमी होती है जिससे की वे इस महामारी के प्रकोप को समझ नही पा रहे है। इसके लिये गांव गांव विशेष अभियान चलाया जाये। वही कई ऐसी गतिविधिया की जाये जिससे की ग्रामीणो को सरल एवं संक्षिप्त में जल्द समझ आ जाये।

Post a Comment

0 Comments