भगवान महाकालेश्वर की शाही सवारी धूमधाम से निकली | Bhagwan mahakaleshwar ki shahi sawari dhoom dhaam se nikli

भगवान महाकालेश्वर की शाही सवारी धूमधाम से निकली

सवारी मार्ग को ध्वज, वंदनवार एवं गुब्बारों से सजाया गया

राजा महाकाल के स्वागत के लिये सवारी मार्ग में लाल कालीन बिछाया गया


उज्जैन (रोशन पंकज) - भगवान महाकालेश्वर की शाही सवारी आज 17 अगस्त को धूमधाम से निकाली गई। पालकी में विराजित मनमहेश जैसे ही महाकाल मन्दिर परिसर से बाहर आये, कड़ाबीन के धमाकों से लोगों को राजाधिराज के आने की सूचना दी गई। समूचा परिवर्तित सवारी मार्ग ध्वज, वंदनवार एवं गुब्बारों एवं फूलों से सजाया गया था। सवारी के लिये मार्ग में लाल कालीन बिछाया गया। सवारी के आगे नगर के राजा के सम्मान में घुड़सवार दल चल रहा था। इसके पीछे पुलिस बैण्ड “ओम नम: शिवाय” की धुन बजाते हुए निकला।

इसके पूर्व महाकालेश्वर मन्दिर के सभा मण्डप में भगवान श्री मनमहेश का विधिवत पूजन-अर्चन पुजारी श्री घनश्याम शर्मा द्वारा किया गया एवं उन्हें पालकी में विराजित किया गया। सभा मण्डप में  संभागायुक्त श्री आनन्द कुमार शर्मा ने सपत्नीक भगवान मनमहेश का विधिवत पूजन-अर्चन किया एवं आरती उतारी।

भगवान महाकालेश्वर की सवारी में पुलिस बैण्ड के बाद महाकाल का चांदी का ध्वज निकाला गया। इसके बाद सवारी निकली। सवारी के पीछे पांच मुखौटे एक रथ पर एवं हाथी पर चंद्रमौलेश्वर सवार होकर निकले। सम्पूर्ण सवारी मार्ग में संभागायुक्त श्री आनन्द कुमार शर्मा, आईजी श्री राकेश गुप्ता, डीआईजी श्री मनीष कपूरिया, कलेक्टर श्री आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री मनोज सिंह सहित अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी एवं पुजारी चल रहे थे। पूर्व सवारियों की तरह दो नगाड़े भी आकर्षण का केन्द्र बने हुए थे।

परिवर्तित मार्ग अनुसार भगवान महाकालेश्वर की सवारी महाकाल मन्दिर से बड़ा गणेश मन्दिर होते हुए हरसिद्धि मन्दिर चौराहा पहुंची। यहां से झालरिया मठ और बालमुकुंद आश्रम होते हुए सवारी रामघाट पर पहुंची। 

रामघाट पर सांसदद्वय द्वारा

भगवान महाकालेश्वर का पूजन-अर्चन किया

रामघाट पर भगवान महाकालेश्वर की पालकी के पहुंचने के पश्चात उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, लोकसभा सांसद श्री अनिल फिरोजिया और राज्यसभा सदस्य श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा विधिवत पूजन-अर्चन किया गया। पूजन-अर्चन पं.आशीष गुरू द्वारा सम्पन्न करवाया गया। इस दौरान अन्य पुजारी भी मौजूद थे। परम्परा अनुसार दत्त अखाड़े की तरफ से शिप्रा नदी के दूसरे तट से भी भगवान महाकालेश्वर की आरती की गई। रामघाट से पूजन-अर्चन के पश्चात भगवान महाकालेश्वर की पालकी को होमगार्ड के सशस्त्र बल के जवानों द्वारा सलामी दी गई। इस अवसर पर रामघाट पर रंग-बिरंगी छत्रियों में आतिशबाजी आकर्षण का केन्द्र थी। रामघाट पर इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री उमा भारती, महापौर श्रीमती मीना जोनवाल, विधायक महिदपुर श्री बहादुरसिंह चौहान, विधायक तराना श्री महेश परमार, बड़नगर विधायक श्री मुरली मोरवाल, आलोट विधायक श्री मनोज चावला, जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री करण कुमारिया, श्री बहादुरसिंह बोरमुंडला, श्री इकबालसिंह गांधी, पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र भारती, श्री बालयोगी उमेशनाथजी महाराज, संभागायुक्त श्री आनंद कुमार शर्मा, आईजी श्री राकेश गुप्ता, डीआईजी श्री मनीष कपूरिया, कलेक्टर श्री आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल, एडीएम श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के प्रशासक श्री एसएस रावत एवं अन्य गणमान्य नागरिक, मीडियाकर्मी आदि मौजूद थे।

इसके पश्चात सवारी रामानुजकोट, हरसिद्धि की पाल होते हुए हरसिद्धि मन्दिर मार्ग, बड़ा गणेश मन्दिर के सामने से होती हुई पुन: महाकालेश्वर मन्दिर पहुंची।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News