बच्चों की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी - सुमित्रा मेड़ा | Bachcho ki suraksha hum sab ki jimmedari

बच्चों की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी - सुमित्रा मेड़ा

बच्चों की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी - सुमित्रा मेड़ा

थांदला। (कादर शेख) - झाबुआ जिलें में कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है शहरों से नगर व गाँव मे फैल रही इस महामारी से निपटने के लिए शासन प्रशासन के साथ अनेक सामाजिक संगठन भी प्रयासरत है। राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग ने राष्ट्रीय मुख्य महासचिव डॉ. रविन्द्र मिश्रा के छोटे भाई के घर बाल गोपाल के आने की खुशी में वनांचल के बच्चों के संरक्षण के लिए अनूठी पहल की गई। संगठन के प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर व सम्भागीय अध्यक्ष सुमित्रा मेड़ा ने ग्रामीण अंचल के ग्राम सजेली में जाकर नन्हे नोनिहालों को मास्क व सेनेटाइजर बाँटे व उसे उपयोग के तरीके बताए। सम्भागीय अध्यक्ष सुमित्रा मेड़ा ने बच्चों को वर्तमान महामारी के बारें में बताते हुए कविता के रूप में कहा कि सामाजिक दूरी बनाकर रखना, हाथों को अपने साबुन से धोना, मुँह पर मास्क लगाकर रखना, कोरोना को भगाएंगे - हम बच्चे हिंदुस्तान के ... वही उन्होंने उपस्थित अभिभावक आदि से कहा कि बच्चों की सुरक्षा हम सबकी जिम्मेदारी है इसलिए उनकी सुरक्षा का खयाल रखना जरूरी है। 

बच्चों की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी - सुमित्रा मेड़ा

इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने कहा कि आज बड़ो की नैतिक जिम्मेदारी है कि वह घर से मास्क पहनकर निकले जो वे नही कर रहे है इसलिए हमनें बच्चों को मास्क के प्रति जागरूक किया ताकि उन्हें मास्क पहनते देख बड़े भी मास्क अवश्य पहनेंगे। कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामीणों में भी मास्क व सेनेटाइजर दिया गया। इस अवसर पर ग्राम सरपंच दुर्गा डामोर, उनके श्वसूर बालू डामोर, बरखारानी नाहर, रतन, विजय आदि ग्रामीण जन भी उपस्थित थे। बालू डामोर ने इस पहल को अनूठी बताते हुए कहा कि जब सामाजिक संगठन गाँव के लिए कुछ करते है तो मन खुश हो जाता है उन्होंने संस्था को धन्यवाद देते हुए कहा कि वे भी गाँव में सभी मास्क पहने व शासन के बताए नियमों का पालन करें इसके प्रयास करेंगे पूरा आयोजन सीमित बच्चों के साथ पूर्ण सतर्कता व सोशल डिस्टेंश के साथ आयोजित किया गया।

Post a Comment

0 Comments