अभिभाषक संघ द्वारा सेवानिवृति पर किया जिला जज का सम्मान समारोह | Abhibhasak sangh dvara sevanivritt pr kiya jila judge ka samman

अभिभाषक संघ द्वारा सेवानिवृति पर किया जिला जज का सम्मान समारोह

न्यायाधीश बोले-मेरा आपसे सदैव जुड़ाव रहेगा 

अभिभाषक संघ द्वारा सेवानिवृति पर किया जिला जज का सम्मान समारोह

अंजड़ (शकील मंसूरी) - बड़वानी जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामेश्वर कोठे के सेवाकाल के अंतिम दिन अंजड अभिभाषक संघ के द्वारा बिदाई व सम्मान समारोह सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए आयोजित किया गया,जिसमे जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामेश्वर कोठे,अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीशगण सुश्री सुशीला वर्मा,आशुतोष अग्रवाल,हेमन्त जोशी एवम अंजड न्यायाधीशगण अमूल मंडलोई एवम सुश्री आभा गवली उपस्थित रहे। स्वागत भाषण अधिवक्ता ललित कुमार जैन ने दिया।


अतिथियों का पुष्पमालाओं से स्वागत व प्रतीक चिन्ह व श्रीफल भेंट कर सम्मान अभिभाषक संघ अध्यक्ष राजेंद्र श्रीवास,सहित सभी पदाधिकारियों व सदस्यों द्वारा किया गया।
कार्यक्रम में सर्वप्रथम  भाषण वरिष्ठ अभिभाषक हुकुमचंद बंसल द्वारा दिया गया जिसमें उन्होंने सेवानिवृत्त हो रहे न्यायाधीश के न्यायालयीन एवम प्रशासनिक कार्यो की प्रशंसा की गई,

अंजड न्यायालय के न्यायाधीश अमूल मंडलोई ने अपने वक्तव्य में कहा कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश महोदय के साथ उन्हें काम करते हुए ढाई वर्ष हो चुके है   लेकिन हमेशा कार्य करते समय अपनत्व का भाव ही पैदा हुआ है तथा उनका जुड़ाव शुरू से ही अंजड न्यायालय व परिसर को खूबसूरत बनाने में रहा है तथा उन्ही की मेहनत के कारण ही अंजड न्यायालय को आई,एस ओ ,प्रमाणपत्र प्राप्त हुआ है।

कार्यक्रम में जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामेश्वर कोठे द्वारा अभिभाषक संघ एवमं न्यायालयीन कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा गया कि मेरे प्रति आपके स्नेह को देखकर में अभिभूत हूँ, तीन वर्ष का समय आपके बीच कब निकल गया पता ही नही चला,जिले के सभी न्यायालयों में जो कार्य हुए है वो आप सभी के सहयोग के बिना नही किये जा सकते थे,उन्होंने ये बात भी कही की प्रशासनिक कार्य के लिए जब भी समय मिलता था उसका सदूपयोग कर जितना हो सका कार्य किया है,साथ ही उन्होंने अभिभाषको को आने वाली समस्याओं को कभी भी बे हिचक बताने की बात कही।

कार्यक्रम में अभियोजन अधिकारी अकरम मंसूरी,व न्यायालयीन कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का संचालन अधिवक्ता ललितकुमार जैन ने किया तथा आभार संघ सचिव अधिवक्ता विशाल कर्मा ने माना।

Post a Comment

0 Comments