संगठन चाहे दो हो मगर उद्देश्य मात्र एक, सर्वांगीण विकास | Sangathan chshe do ho magar uddeshy matr ek

संगठन चाहे दो हो मगर उद्देश्य मात्र एक, सर्वांगीण विकास


मेघनगर (जियाउल हक क़ादरी) - ओद्योगिक क्षेत्र में एक संगठन होने के बावजूद दूसरा संगठन भी बन गया। यह नवीन संगठन इंडस्ट्रियल एसोसिएशन मेघनगर (IAM) हैं। उक्त्त संगठन का उद्देश्य भी सकारात्मक सामाजिक सरोकारों से जुड़ा है, कोरोना के बिच में भी संगठन से जुड़े सदस्यों ने व उद्योगपत्तियों ने अथक, सेवा कर मिसाल पेश की है। आई.ए.एम. का उद्देश्य संगठन सेवा श्रमिकों के हितार्थ के साथ शिक्षा व स्वास्थ व पर्यावरण सेवा के लिए भी तत्पर रहना है। आपको बता दें कि मेघनगर में रसायन बनाने वाले कारखाने ही मात्र इस नवीन संगठन के पदाधिकारी एवं सदस्य है बाकी अन्य सभी प्रकार के कारखाने पूर्व में बने औद्योगिक संगठन के तत्वाधान में निरंतर सेवा के कार्य कर रहे हैं। मेघनगर औद्योगिक संगठन जो की कई वर्षों से सेवा के कार्य करते आया है जिसमें मुक्तिधाम निर्माण में सहयोग,निषुल्क पेयजल व्यवस्था, नगर के धार्मिक आयोजनों एवं अनेक असहाय परिवारों के स्वास्थ्य लाभ की जिम्मेदारियों को बखूबी निभाया है एवं निभा रहा है। अब नवीन बने संगठन का उद्देश्य इतना है कि अपने संगठन से जुड़े लोगों के हितार्थ एवं अच्छे कार्यों के साथ, कारखानों को संचालित करते हुऐ शासन प्रशासन द्वारा बनाए गए नीति निर्देशों का ध्यान रखना व स्वच्छ सुंदर मेघनगर की ओर अग्रसर होना।   जब दल अनेक हो सकते हैं,समुदायों के संगठन से लेकर पत्रकारों व शिक्षक कर्मचारी संगठन भी कई हो फिर ओद्योगिक क्षेत्र के एकाधिक संगठन होना, भविष्य में विकास की नई इबारत लिखेगा।

Post a Comment

0 Comments