मृतक प्रसूता के परिवार ने की शासन से जांच की मांग | Mratak prasuta ke parijan ne ki shasan se janch ki mang

मृतक प्रसूता के परिवार ने की शासन से जांच की मांग

मृतक प्रसूता के परिवार ने की शासन से जांच की मांग

चाँद/छिंदवाड़ा (राजेन्द्र डेहरिया) - उक्त मामला एक सप्ताह पूर्व छिंदवाड़ा जिले की चाँद तहसील के चांद अस्पताल का है। ग्राम मेगदोन निवासी गर्भवती महिला की प्रसव के दौरान हुई मौत का है।मृतक के परिवार के लोगो ने पहली बार मीडिया के सामने आकर अपनी व्यथा का बखान किया जिसमें मृतक मनेसी के पति सन्दीप ओर सास सुंदर बाई ने बताया कि रात में डियूटी पर शरीरा खान थी जिसके द्वारा मेरी पत्नी का किसी भी तरह का इलाज नही किया गया वह 12 बजे रात से तड़फती रही पर पदस्त नर्स ने पीड़ित परिवार की एक न सुनी । इसी बीच सन्दीप की पत्नी ने आधी रात को एक पुत्र को जन्म दी। इसी बीच प्रसूता को अति से ज्यादा ब्लेडिंग चालू हो गयी और प्रसूता बेहोस होगयी पीड़ित परिवार नर्स के चक्कर काटते रहे पर  उक्त नर्स द्वारा पीड़ित परिवार से रुपये की भी मांग की गई जो कि मृतक की सास द्वारा देना बताया गया है। 


अंत मे जब मृतक  चेतन अवस्था न आ पाई ब्लेडिंग होती रही इस कारण से मृतक की स्थित अति गम्भीर हो गयी तब उक्त नर्स द्वारा आनन फानन में जननी वाहन 108 की मदद से जिला चिकित्सालय छिंदवाड़ा बिना रिफर लेटर के रिफर किया गया परन्तु प्रसूता की रास्ते मे ही मौत हो गयी। उक्त पूरे मामले में मृतक के पति एव परिवार के लोगो ने कहा कि यह एक गरीब हरिजन परिवार के  समय रहते सही इलाज मिलता तो यह अप्रिय घटना नही होती यह मौत केवल उक्त नर्स की लापरवाही का परिणाम है । हम जिला कलेक्टर महोदय से एव सम्बंधित विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से मांग करते है कि उक्त पूरे मामले में नर्स एव उनके साथ जो भी अन्य सम्लित है कि निष्पक्ष जांच कर दोषी पाए जाने वालों पर शक्त कार्यवाही कर हम गरीब हरिजन परिवार और मृतक सहित छोटे से शिशु को न्याय दिलाने की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments