विधायक और जिलाध्यक्ष करते रहे प्रेस कांफ्रेंस, उधर पुलिस ने दर्ज कर लिया मामला | Vidhayak or jiladhyaksh krte rhe press conference

विधायक और जिलाध्यक्ष करते रहे प्रेस कांफ्रेंस, उधर पुलिस ने दर्ज कर लिया मामला

विधायक और जिलाध्यक्ष करते रहे प्रेस कांफ्रेंस, उधर पुलिस ने दर्ज कर लिया मामला

डिंडौरी (पप्पू पड़वार)  - रविवार को बड़ा घटनाक्रम डिंडौरी में सामने आया है। रेत ठेकेदार पर मनमानी का आरोप लगाकर जहां एक ओर जिला मुख्यालय के रेस्ट हाउस में शहपुरा विधायक भूपेंद्र मरावी कांग्रेस जिलाध्यक्ष वीरेंद्र बिहारी शुक्ला के साथ प्रेस कांफे्रंस कर रहे थे, वहीं दूसरी ओर समनापुर पुलिस आनन-फानन में मामला दर्ज कर रही थी। शाम को जैसे ही मामला दर्ज होने की सूचना सामने आई, कांग्रेसी दंग रह गए। शहपुरा कांग्रेसी विधायक भूपेंद्र मरावी ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए इसे अन्याय के खिलाफ आवाज दबाने का प्रयास बताया। समनापुर पुलिस ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष वीरेंद्र बिहारी शुक्ला, कांग्रेस प्रदेश प्रतिनिधि रमेश राजपाल, विक्रमपुर ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष अमित गुप्ता, बिछिया निवासी विधायक प्रतिनिध संजू राय, विधायक भूपेंद्र मरावी के मौसेरे भाई बंटी सहित अन्य अज्ञात लोगों पर भी मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।

दो दिन में अलग-अलग शिकायत

गौरतलब है कि दिवारी में रेत खदान संचालक मेसर्स केपी भदौरिया के अधिकृत कर्मचारी द्वारा एसपी कार्यालय में शनिवार को शिकायत कर विधायक भूपेंद्र मरावी, कांग्रेस जिलाध्यक्ष सहित अन्य पर तोड़फोड़ करने के साथ 50 हजार रुपये की लूट करने की नामजद शिकायत की थी। एक दिन बाद रविवार को रेत ठेकेदार के ही कर्मचारी अन्नू सिंह (18) पुत्र सूबेदार सिंह जादौन निवासी ठाकुर मोहल्ला थाना वीरपुर जिला श्योपुर ने अलग तरीके से शिकायत करके कई सवाल खड़े कर दिए हैं। रविवार को जिस शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है उसमें लूट का कोई आरोप नहीं है। साथ ही विधायक भूपेंद्र मरावी का भी उल्लेख नहीं है। ऐसे में दो दिन में दो अलग अलग शिकायत पर ही सवाल उठना शुरू हो गए हैं 

शिकायतकर्ता ने तीसरे दिन दर्ज कराई शिकायत

फरियादी अन्नू सिंह द्वारा घटना के तीसरे दिन समनापुर थाना में जो शिकायत की गई है। अन्नू सिंह ने बताया कि वह ग्राम भानपुर में अपने साथियों के साथ जनवरी 2020 से रहकर दिवारी रेत खदान का काम देखता है। एफआईआर में उल्लेख किया गया कि दिवारी रेत खदान मेसर्स केपी भदौरिया के द्वारा राजू खान निवासी जबलपुर को खदान देखने के लिए अधिकृत किया गया है। बताया गया कि 26 जून को वह अपने साथी आकाश शर्मा, रवि सिकरवार के साथ घर में बैठा था। तभी शाम लगभग पांच बजे मकान के सामने कुछ लोग गाड़ी से आए और कमरे के सामने आकर यह कहकर गाली गलौज करने लगे कि तुम लोगों ने रेत का भाव बढ़ा दिया है और अनाधिकृत रुप से रेत निकासी करा रहे हो। शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि उसके द्वारा यह कहा गया कि ठेकेदार ने जो रेट निर्धारित किया है उसी हिसाब से वे रेत बेच रहे हैं। शिकायतकर्ता ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा जाकर रेत जांच नाका लिखा बोर्ड तोड़ दिया गया व लकड़ी के बैरियर को तोड़ने से भी कंपनी को नुकसान हुआ। शिकायतकर्ता ने तोड़फोड़ से मना करने पर मारपीट का आरोप लगाया है। एफआईआर में उसने यह भी उल्लेख कराया कि उसे गाड़ी में बैठाकर गेट बंद कर लिया गया था। कुछ देर बाद वह गाड़ी से कूदकर भाग गया। उसने बताया कि साथ रवि सिकरवार ने अपने मोबाइल से घटना का वीडियो बनाया था। पुलिस ने शिकायत पर आरोपितों के विरुद्घ धारा 147, 294, 323, 506, 342, 427 एक राय होकर गाली-गलौज, मारपीट, धमकाने, नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है

इनका कहना है
मैं जो मामला दर्ज हुआ है उसको लेकर डिंडौरी नहीं आया था। डिंडौरी आना पहले से प्रस्तावित था। फरियादी के बताए अनुसार मामला दर्ज किया गया है। बैरियर को तोड़ने की शिकायत हुई है। जहां तक अलग-अलग शिकायत करने की बात है तो जांच में सब शामिल हो जाएगा। लूट तो संभव नहीं लग रहा है, यदि जांच में आएगा तो देख लिया जाएगा। जो हमारे पास वीडियो क्लिप है उसमें विधायक नजर नहीं आ रहे हैं।
पीएस उईके
डीआईजी शहडोल रेंज।

जिसने एफआईआर दर्ज कराई है, उसने जो आरोप लगाएं हैं। उस आधार पर मामला दर्ज किया गया है। शनिवार को ज्ञापन दिया गया था। रविवार को फरियादी ने स्वयं पहुंचकर शिकायत की है। प्रथम सूचना के आधार पर जो जानकारी दी गई, उसी आधार पर मामला दर्ज हुआ है। अभी परीक्षण किया जा रहा है। आगे धाराएं बढ़ाई जा सकती हैं।
विवेक लाल
एएसपी डिंडौरी।

Post a Comment

0 Comments