शिक्षा मैं संस्कृति व वेदों का समावेश ही सुसंस्कार को जन्म देता है - सांसद डामोर | Shiksha main sankriti va vedo ka samanvesh hi susanskar ko janm deta hai

शिक्षा मैं संस्कृति व वेदों का समावेश ही सुसंस्कार को जन्म देता है - सांसद डामोर

शिक्षा मैं संस्कृति व वेदों का समावेश ही सुसंस्कार को जन्म देता है - सांसद डामोर

कल्याणपुरा (अली असगर बोहरा) - सत्य परेशान हो सकता है पराजित नही समाज के हितो ओर सर्वांगीण विकाश के लिए युवाओं को आगे आकर समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर करने में कार्य करना चाहिए, साथ ही कोरोनो जैसी महामारी का हम सभी को मिल कर सामना करना पड़ेगा, भारत सरकार द्वारा दिये गए महत्वपूर्ण निर्देशो का कड़ाई से पालन करने के लिए संकल्प लेने की आवश्यकता है, जिससे इस महामारी का अंत सम्भव हो सके । ग्राम पंचायत कल्याणपुरा मे शुक्रवार को लोकप्रिय सांसद माननीय गुमानसिंग जी डामोर एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती डामोर, दुवारा सोलंकी फलिया श्रीकृष्ण प्रणामी मंदिर कल्यानपुरा मे सांसद निधि द्वारा 5 लाख की लागत के सी सी  रोड का  भूमिपूजन किया गया साथ ही उपस्थित जनसमुदायों द्वारा दिये हुए आवेदनों को त्वरित रूप से कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया कल्याणपुरा मे चारण समाज के निर्माणाधीन समुदायिक भवन का निरीक्षण किया व चारण समाज के युवाओं से वार्तालाप कर समाज के सभी युवाओ द्वारा समाज उत्थान के लिए किए जा रहे कार्यो की सांसद महोदय द्वारा सराहना की गई,चारण समाज के युवाओं द्वारा माननीय सांसद महोदय जी का धन्यवाद किया।उक्त कार्यक्रम का संचालन लक्ष्मण सिंह बामनिया जी ने किया व आभार मोहन सिंह भूरिया जी ने माना  कार्यक्रम में मण्डल अध्यक्ष सुरेश चौहान, मण्डल महामंत्री प्रकाश राठौर ,भरत राठौर,प्रकाश चौहान, रवि राठवा, पूर्व सरपंच रूपसिंह सोलंकी, पपु निनामा ,सौरभ पंड्या,मानसिंग परमार,मंडल के पदाधिकारी गण व कार्यकताओ के साथ नगर व नगर के आस पास के ग्राम  भमरदा,बरखेड़ा,बिसौली धावड़ीपाड़ा,संदला,गोपालपुरा गावो से कार्यकर्ता व श्री कृष्ण प्रणामी भक्त गण उपस्थित रहे।

शिक्षा मैं संस्कृति व वेदों का समावेश ही सुसंस्कार को जन्म देता है - सांसद डामोर

Post a Comment

0 Comments