प्रधानमंत्री ने किया गरीब कल्याण रोजगार अभियान का शुभारंभ | Pradhanmantri ne kiya garib kalyan rojgar abhiyan ka shubharambh

प्रधानमंत्री ने किया गरीब कल्याण रोजगार अभियान का शुभारंभ

प्रधानमंत्री ने किया गरीब कल्याण रोजगार अभियान का शुभारंभ

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज 20 जून को बिहार राज्य के खगड़िया जिले के तेलीहार ग्राम से गरीब कल्याण रोजगार अभियान का शुभारंभ किया। इस अभियान के शुभारंभ कार्यक्रम का 20 जून को प्रात: 11 बजे से डीडी न्यूज़ चैनल पर एवं वेव कास्टिंग के माध्यम से सीधा प्रसारण किया गया। बालाघाट कलेक्ट्रेट कार्यालय सभाकक्ष में इस अभियान के शुभारंभ कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दिखाया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री दीपक आर्य, अपर कलेक्टर श्री शिवगोविंद मरकाम एवं निर्माण विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


     गरीब कल्याण रोजगार अभियान में मध्यप्रदेश के 24 जिलों को शामिल किया गया है। इसमें बालाघाट, बैतूल, सिवनी, कटनी, छिंदवाड़ा, मंडला, खरगौन, झाबुआ, छतरपुर, रीवा, सतना, सागर, पन्ना, भिंड, अलीराजपुर, खंडवा, शहडोल, धार, डिंडोरी, धार, बड़वानी, सीधी, सिंगरौली एवं शिवपुरी शामिल है। इस अभियान के अंतर्गत कोरोना संकट के दौरान वापस आये प्रवासी मजदूरों एवं स्थानीय ग्रामीणों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है।

     योजना के शुभारंभ अवसर पर प्रधानमंत्री श्री मोदी ने देश के गांव और ग्रामीणों के प्रयासों की प्रशंसा की करते हुए कहा कि वे कोविड-19 का पूरे साहस के साथ सामना कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने प्रवासी मजदूरों से बात भी की और गरीबों को सरकार की ओर से मुफ्त राशन मिलने के बारे में संवाद किया। साथ ही उन्होंने मजदूरों को रोजगार अभियान के तहत मिलने वाले फायदों से अवगत कराया और कहा कि इसके जरिए प्रवासी श्रमिकों को सशक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

     प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा, 'गरीब कल्याण रोजगार अभियान से आपके इस आत्मसम्मान की सुरक्षा भी होगी और आपके श्रम से आपके गांव का विकास भी होगा। आज आपका ये सेवक और पूरा देश, इसी सोच के साथ, इसी संकल्प के साथ आपके मान और सम्मान के लिए काम कर रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 'ग्राउंड पर काम करने वाले हमारे साथी, ग्राम प्रधान, आंगनबाड़ी वर्कर, आशा वर्कर इन सभी ने बहुत बेहतरीन काम किया है और ये सभी वाह-वाही के पात्र हैं। कोई आपकी पीठ थपथपाए या न थपथपाए पर मैं आपका जय जयकार करता रहूंगा । मैं ऐसे ग्राम सेवकों को आदरपूर्वक नमन करता हूं। उन्होंने कहा  आत्म निर्भर भारत पैकेज में किसानों की फसल रखने के लिए कोल्ड स्टोरेज बनें, किसानों को सीधे बाजार से जोड़ा जाए, इसके लिए भी एक लाख करोड़ के निवेश की घोषणा की गई है। जब किसान बाजार से जुड़ेगा, तो अपनी फसल को ज्यादा दामों पर बेचने के रास्ते भी खुलेंगे।

     प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि 'आपने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत एक और फैसले के बारे में सुना होगा। आपके गांवों के पास, कस्बों और छोटे शहरों में स्थानीय उपज से अलग अलग उत्पाद बने, पैकिंग वाली चीजें बने, इसके लिए उद्योग समूह बनाए जाएंगे। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने इंटरनेट के इस्तेमाल पर जोर दिया और कहा, देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है जब गांव में, शहरों से ज्यादा इंटरनेट इस्तेमाल हो रहा है। गांवों में इंटरनेट की स्पीड बढ़े, फाइबर केबल पहुंचे, इससे जुड़े कार्य भी होंगे।' सरकार पूरा प्रयास कर रही है कि कोरोना महामारी के इस समय में, आपको गांवों में रहते हुए किसी से कर्ज न लेना पड़े, किसी के आगे हाथ न फैलाना पड़े। गरीब के स्वाभिमान को हम समझते हैं।'

Post a Comment

0 Comments