घाघरला में अवैध वन कटाई का निरीक्षण करने पहूचे आरक्षक पर किया हमले का प्रयास | Ghagharla main awaidh van katai ka nirikshan karne pahuche arakshak pr kiya hamle

घाघरला में अवैध वन कटाई का निरीक्षण करने पहूचे आरक्षक पर किया हमले का प्रयास

अब पहुची टीम से भिड़े वन माफिया

घाघरला में अवैध वन कटाई का निरीक्षण करने पहूचे आरक्षक पर किया हमले का प्रयास

बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - शुक्रवार को वन कटाई की सूचना का निरीक्षण करने विभाग के आरक्षक पहोचे तो वहाँ वन माफ़ियायो ने उनपर हमला करने का प्रयास किया। पर आरक्षक की कद काठी की दमदारी से वह उनपर हमला नही कर सके। नेपानगर के आस-पास ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार हो रही अवैध कटाई की शिकायत पर भोपाल से निरीक्षण करने दल शनिवार को ग्राम घाघरला पहुचा जहा वन विभाग को दिन में ही अवैध कटाई करने वाले वन माफियाओं का आतंक देखने को मिला यहाँ पहुची टीम के सामने लगभग 90 से अधिक वन माफियाओं ने झुंड बना कर वन विभाग पर हमला करने की ठान ली। मौका स्थिति देख कर वन विभाग ने भी कमर कस ली व झड़प होते ही ग्रामीणों की मदद से वन माफियाओं को खदेड़ने में कामयाबी हासिल की जानकारी के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में वन माफियाओं ने सबसे अधिक जंगल सफाचट कर दिया है। यहाँ लगभग 14 से 15 एकड़ भूमि पर लगे हरे पेडों को काट दिया गया। जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने भोपाल पहुच कर की थी। जिसके बाद भोपाल से जांच के लिए टीम पहुची थी।


निरीक्षण करने आई टीम ने बनाई वीडियोग्राफी, माफियाओं ने जंगल काट कर कर दी बोवनी। वन क्षेत्रों में कटाई की शिकायत मिलने के बाद निरीक्षण करने पहुची भोपाल की टीम ने मांडवा, सिवल, घाघरला, सिन्धखेड़ा आदि वन ग्राम में निरीक्षण किया व इसकी वीडियोग्राफी के साथ फोटो भी लिए। इसकी रिपोर्ट प्रधान वन संरक्षक को की जाएगी। वही सिवल, घाघरला में वनों को काट कर खेती कर बोवनी कर दी गई जिसे देख कर वन अमला दंग रह गया।

नेपानगर प्रभारी रेंजर ग़ुलाबसिंग बर्डे ने बताया कि घाघरला में वन अमले पर हमले का प्रयास किया गया इस बीच झूमा झटकी भी हुई लेकिन ग्रामीणों की मदद से उन्हें खदेड़ दिया गया।

Post a Comment

0 Comments