एक दशक से बुरहानपुर में मिर्गी की दवाई निःशुल्क इस बार नागपंचमी को नही दी जायेंगी | Ek dashak se burhanpur main mirgi ki davai nishulk

एक दशक से बुरहानपुर में मिर्गी की दवाई निःशुल्क इस बार नागपंचमी को नही दी जायेंगी

एक दशक से बुरहानपुर में मिर्गी की दवाई निःशुल्क इस बार नागपंचमी को नही दी जायेंगी

बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - शहर के शनि मंदिर के पास, चौक बाजार में स्थित आयुर्वेदाचार्य पंडित प्रभुनाथ शास्त्री (बनारस वाले), आयुर्वेदाचार्य डॉ. विभूति भूषण शास्त्री ने बताया हम पिछले एक दशक से मिर्गी की दवाई सभी धर्म के लोंगो को फ्री में धर्मार्थ, निस्वार्थ, निःशुल्क सेवा करते हुए सभी आने वाले मरीजो को साल में 3 बार दवाई खिलाते हैं। किंतु इस बार देश में कोरोना महामारी संक्रमण को देखते हुए 25 जुलाई 2020 को नागपंचमी होने से उस दिन दवाई का वितरण नही किया जायेगा। उन्होंने कहा हमारे यहाँ पूरे देश से लोंगो का आना जाना होता है इसलिए आप सभी लोग यात्रा नही करे और अपने अपने घर पर ही रहे और शाषन प्रशासन को सहयोग करे।


दवाई वर्ष में 3 बार लगातार पथ्य पूर्वक, बिना खण्ड किये लेना चाहिए। यदि सख्ती से पथ्य रखा गया तो ही लाभ होगा। यह दवाई दीवाली, होली, नागपंचमी इस तरह वर्ष में 3 बार लेना चाहिए। जिससे कि मिर्गी वाले लोगों को लाभ हो सके ओर स्वस्थ हो जाये। हमारा देश अभी कोरोना महामारी संकट से जूझ रहा है, इसलिए हम सभी को सोसल डिस्टेंनसिग का पालन करना चाहिए।अगली दवाई हेतु फोन पर संपर्क कर ही आए। हम सभी देश वासी इस महामारी को हराकर जीत सके। कोरोना हारेंगा ओर हमारा देश जितेंगा जरूर।

एक दशक से बुरहानपुर में मिर्गी की दवाई निःशुल्क इस बार नागपंचमी को नही दी जायेंगी

Post a Comment

0 Comments