एक ही छत के नीचे बैठेंगे अब सभी कर्मचारी | Ek hi chhat ke niche bethenge ab sabhi karmachari

एक ही छत के नीचे बैठेंगे अब सभी कर्मचारी 

निर्माण 3 महीने पहले पूर्ण होना था लेकिन लॉकडाउन बना रुकावट का कारण

एक ही छत के नीचे बैठेंगे अब सभी कर्मचारी

धामनोद (मुकेश सोडानी) - स्थानीय कृषि उपज मंडी का निर्माण करीब44 वर्ष पहले 1975 में हुआ था जो अब जर्जर अवस्था में हो चुकी है इसी तारतम्य में मंडी के प्रयासों से अब नवीन भवन बन रहा है जिसमें सभी कर्मचारी एक ही छत के नीचे बैठकर कार्य करेंगे मंडी के  गौरीशंकर गाडगे ने बताया कि  हो रहे नवीन भवन के निर्माण की लागत करीब 77 लाख है संभवत जनवरी में भवन पूर्ण रूप से बनकर तैयार हो जाना था लेकिन लॉकडाउन के कारण विगत 3 माह  निर्माण  रुक गया अब आगामी  माह में  बन रहे भवन का कार्य अंतिम चरण में संपन्न होने की संभावना है जानकारी देते हुए  यह भी बताया कि अभी जिस भवन में मंडी कार्यालय स्थापित है तो वह जर्जर अवस्था में हो चुका है तथा जगह के अभाव में मंडी के कर्मचारियों को अलग-अलग जगह बैठना पड़ता है कंप्यूटर कक्ष  अलग जगह पर है तो अन्य अधिकारी दूसरे कक्ष में  बेठते है नवीन भवन  बनने से सभी कर्मचारी एक ही जगह पर अपना कार्य पूरा करेंगे तथा मंडी कार्य बेहतर से बेहतर तरीके से संपादित होगा अभी नवीन भवन का   कार्यपूरा हो चुका है आगामी  माह में कार्य पूर्ण रूप से समाप्त होकर भवन तैयार हो जाएगा

Post a Comment

0 Comments