फोरलेन पर बस पलटी ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा | Forlane pr bus palti driver ki laparwahi se hua hadsa

फोरलेन पर बस पलटी ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा

क्लीनर को सिखा रहा था बस चलाना

अधिकतर विद्यार्थी ही सवार थे बस में, छुट्टी पर जा रहे थे घर

फोरलेन पर बस पलटी ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा

तिरला (बगदीराम चौहान) - धार से निसरपुर जा रही वास्केल बस क्रमांक एमपी 11 पी 0641 तिरला बायपास पर रायपुरिया फाटे के समीप पलटी खा गई। जिसमें सवार 8 से 10 व्यक्ति घायल हुए बस पलटी खाने के तुरंत बाद ही ड्राइवर और क्लीनर कन्डेक्टर बस छोड़ भाग गए। इन बस के स्टॉप में बस में सवार घायलो की मदद करना भी उचित नही समझा।


जानकारी के अनुसार तिरला बायपास पर स्थित पेट्रोल पंप से बस में डीजल डलवाने के बाद ड्राइवर ने बस चलाने के लिए क्लीनर को दे दी। और थोड़ी आगे ही ले जाने पर नवसीखिये क्लीनर ने बस को अंधाधुन गति से दौड़ाते हुए संतुलन खोते हुए गाड़ी फोरलेन से नीचे उतार दी। बस की गति इतनी थी कि बस फोरलेन के साइड में लगे पिलर तोड़ते हुए सड़क के नीचे जाकर पलट गई। वो तो गनीमत रही कि सड़क से नीचे चेयर में बस उतरी व पलटने के बाद वही टिक गई। अगर बस और पलटी खा जाती तो यात्रियों की जान भी जा सकती थी।

फोरलेन पर बस पलटी ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा

बस पलटने से बस का मुख्य दरवाजा नीचे जमीन में दबने से यात्रियों का बस से निकलना का मार्ग ही बंद हो गया। इमरजेंसी डोर एवं ड्राइवर साइड के दरवाजे से यात्रियों को बाहर किया गया। घटना में 7 से 8 व्यक्तियों की घायल होने की सूचना मिली जिन्हें बस धार भोज अस्पताल रेफर किया गया। 
हादसा होते ही भाग निकले ड्राइवर कन्डेक्टर और क्लीनर-बस के पलटी खाते ही बस का पूरा स्टाप घटना स्थल से भाग निकला।
      
फोरलेन पर बस पलटी ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा

बस में सवार थे छात्र- छात्राएं बस धार से निसरपुर जाती है। इस बीच इसमे धार से और इंदौर से धार उतरे यात्रियों एवं विद्यार्थियों ने धार से अपने अपने गंतव्य की और जाने के लिए बस में सवार हुए थे। 
           
छात्र दिलीप जमरा, सजय अलावा, मोहन जमरा, दीपक जमरा अरविंद मुझलदा ने बताया कि हम 31 मार्च तक कि छुट्टी होने के कारण हमारे गांव चिकली जा रहे थे। पम्प से डीज़ल डलवाने के बाद क्लीनर ने  ड्राइवर से गाड़ी सीखने की ज़िद की ड्राइवर ने क्लीनर को गाड़ी चलाने को दी और पम्प से 400 मीटर की दूरी पर जाते ही हादसा हो गया।

छात्रा मनीषा अचाले ने बताया कि में धार से बस में बैठी थी और जिराबाद जा रही थी  बस अंधाधुन गति में थी। जैसे ही पलटी खाई हमे कुछ समझ नही आया और चक्कर आने लगे। जैसे तैसे हम गाड़ी का इमरजेंसी दरवाज़ा खोल कर बाहर निकले।

ड्राइवर क्लीनर कन्डेक्टर बस पलटी खाने के बाद भाग गए। मालिक का पता कर कार्यवाही की जाएगी। दुर्घटना में कुल 8 घायल हुए है जिनमे 4 पुरुष 3 महिला और एक बच्चा घायल हुआ है जिसे आंख के नज़दीक ही चोट लगी है। सभी को जिला अस्पताल रेफर किया है।

Post a Comment

0 Comments