मप्र भाजपा के आव्हान पर हिंदू समाज ने निकाली सीएबी के पक्ष में रैली | MP bhajpa ke ahwan pr hindu samaj ne nikali cab ke paksh main raily

मप्र भाजपा के आव्हान पर हिंदू समाज ने निकाली सीएबी के पक्ष में रैली

राज्यपाल के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

मप्र भाजपा के आव्हान पर हिंदू समाज ने निकाली सीएबी के पक्ष में रैली

आलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - मंगलवार को मप्र भाजपा के आव्हान पर दोपहर को बस स्टैंड से हिंदू समाज द्वारा एक रैली का आयोजन किया। रैली एमजी रोड़, नीम चैक, पोस्ट आफिस, झंडा चैक, रामदेव मंदिर चैराहा, पेट्रोल पंप, दाहोद नाका होते हुए कलेक्टर कार्यालय पर पहुंची। रैली में शामिल लोग हाथो में सीएबी के समर्थन वाले बैनर और पोस्टर लेकर चल रहे थे। रैली का समापन कलेक्टर कार्यालय पर हुआ। जहां पर राज्यपाल के नाम एसडीएम संजीव पांडे को ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता नागरसिंह चोहान, भाजपा जिलाध्यक्ष वकीलसिंह ठकराला, पूर्व जिलाध्यक्ष किशोर शाह, राम नवमी उत्सव समिति अध्यक्ष हितेन्द्र शर्मा सहित समस्त हिंदू समाज के प्रतिनिधि शामिल थे। रैली को संबोधित करते हुए प्रदेश प्रवक्ता चोहान ने कहा कि देश की आजादी के बाद पाकिस्तान, बांग्लादेश एवं अफगानिस्तान में करोड़ो की संख्या में हिंदू, सिक्ख, जैन, बौद्ध और पारसी समाज के लोग निवासरत थे जिन्हें तब के राजनेताओं द्वारा यह विश्वास दिलाया गया था की वे जहां रह रहे है वहां वे सुरक्षित है। लेकिन आजादी के बाद 3 ही देशो ने अपने आप को इस्लामिक राष्ट्र घोषित कर दिया। ऐसे में लाखो की संख्या में शरणार्थी बनकर भारत में रह रहे हिंदू, सिक्ख, बौद्ध, जैन व अन्य अल्पसंख्यक समाज के लोगों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में नागरिकता संसोधन बील पारित किया है, जिसके चलते अब ये शरणार्थी भी भारत के आम नागरिकों की तरह अपना जीवन यापन कर पाएंगे। लेकिन मप्र की कांग्रेस सरकार सहित देशभर कांग्रेस, सपा, बसपा, टीएमसी, माकपा जैसे राजनीतिक दल इस बील का विरोध कर अपना हिंदू विरोधी होने का परिचय दे रहे है जिनका हम सब पुरजोर विरोध करते है। 

मप्र भाजपा के आव्हान पर हिंदू समाज ने निकाली सीएबी के पक्ष में रैली

भाजपा जिलाध्यक्ष वकीलसिंह ठकराला ने कहा कि भारत की संसद द्वारा नागरिकता संसोधन  बील पारित किया उसे राष्ट्रपति महोदय द्वारा मंजूरी दी गई है इसलिए यह कानूनी स्वरूप देकर संपूर्ण भारत में रहे रहे शरणार्थियों को नागरिकता का मार्ग प्रशस्त करता है। पिछले कई वर्षो से इन शरणार्थियों को देश की नागरिकता देने की बात की जा रही थी जो अब जाकर नरेंद्र मोदी एवं अमित शाह के नेतृत्व में पूरी हुई है। मप्र में कमलनाथ सरकार इसे मप्र में लागू नहीं करने की बात कह रही है जो की अपने आप में संविधान का उल्लंघन है। पूर्व जिलाध्यक्ष किशोर शाह ने कहा कि नागरिकता संसोधन बील को मप्र में लागू नहीं होने देंगे इससे यह साबित होता है की कांग्रेस सहित अन्य विपक्ष दल जो बील का विरोध कर रहे है वे हिंदू समाज का भी विरोध कर रहे है। राम नवमी उत्सव समिति अध्यक्ष हितेन्द्र शर्मा ने कहा कि राष्ट्र धर्म के लिए समस्त हिंदू समाज को एकजूट होकर इस बील का समर्थन करना होगा, आने वाले समय में समान नागरिक संहिता एवं जनसंख्या नियंत्रण कानून भी पारित होने वाला है जो की समस्त देश के हित में है। ब्राहम्ण समाज के संरक्षक अशोक ओझा ने कहा कि यह बील घुसपेठियो को देश से बाहर करने वाला बील है इस देश के नागरिक को इस बील से कोई खतरा नहीं है। इसलिए समझदारी पूर्वक काम लेते हुए इस बील का सभी धर्मो द्वारा समर्थन करना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन हितेन्द्र शर्मा ने किया। आभार गिरिराज मोदी ने माना। 

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News