265 नगरों से होकर अनन्य प्रवास यात्रा पहुँची थांदला | 265 nagro se hokar ananya pravas yatra pahunchi thandla

265 नगरों से होकर अनन्य प्रवास यात्रा पहुँची थांदला

आचार्य श्री नानेशगुरु शताब्दी वर्ष में अनन्य यात्रा के द्वारा सामाजिक जागरूकता के प्रयास

265 नगरों से होकर अनन्य प्रवास यात्रा पहुँची थांदला

थांदला (कादर शेख) - आचार्य श्री नानालालजी मसा की 100 वी जन्म शताब्दी पर अनन्य प्रवास यात्रा थांदला पहुँची। यात्रा में आचार्य श्री के विराट जीवन चरित्र को संघ के बीच श्री तेजकुमार जी तातेड़ में संबोधित किया। आचार्य श्री ओर संघ की विभिन्न जानकारी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौतम जी रांका ने प्रदान की। कार्यक्रम को सुमित बोथरा रायपुर , नीरज वोहरा इंदौर, पुष्पा बरडिया रतलाम ने भी यात्रा के उद्देश्य सभी को बताए। जिसमे त्याग तप और सामाजिक सुधार के बारे में बताया गया। कार्यक्रम  संचालन मनोज वोहरा बिरमावल ने किया। इस मौके पर थांदला गौरव आचार्य श्री जवाहरलालजी मसा के सांसारिक परिजन राजेश कवाड़ कमलेश कवाड़ का सम्मान किया गया साथ ही क्षेत्र के विधायक विरसिहजी  भुरिया का शाल माला से केंद्रीय पदाधिकारी ने स्वागत किया। उसके बाद महावीर भवन पर स्वेताम्बर संघ का स्वामी वात्सल्य अनन्य महोत्सव परिवार थांदला की ओर से रखा गया। इस अवसर पर थांदला श्रीसंघ के   गेंदालालजी शाहजी, नगीन शाहजी, रमेश चौधरी, प्रदीप  गादिया, महेश शाहजी, आईजा प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर, पीयूष कवाड़, दीपेश शाहजी, यतीश छिपानी, अरविंद रुनवाल आदि उपस्तिथ थे।

265 नगरों से होकर अनन्य प्रवास यात्रा पहुँची थांदला

आचार्य जवाहर जन्मभूमि के दर्शन कर हर्षित हुआ संघ

अनन्य प्रवास यात्रा के दौरान नाना गुरु सम्प्रदाय के साधु मार्गी श्रावक संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारी व प्रदेश इकाई के पदाधिकारियों ने थान्दला की गौरवशाली भूमि के दर्शन कर स्वयं को धन्य माना। इस दौरान वे आचार्य श्री जवाहरलालजी म सा के जन्म स्थल सतीशचन्द्र राजेशजी कमलेशजी कुवाड़ के निवास स्थान पर जाकर नवकार मन्त्र का स्मरण कर अभिभूत होते हुए मंगल स्तवन गाये। केसरिया केसरिया आज हमारो रंग केसरिया कहते हुए भाव विभोर हो गए। इस दौरान उन्होंने विधायक वीरसिंह भूरिया को स्मरण करवाते हुए बताया कि आचार्य श्री जवाहरलालजी मसा के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी, प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, आचार्य विनोबा भावे सहित महान राजनेताओं को आध्यात्मिकता के सन्देश दिए थे उन्होंने कहा कि पूर्व में नगर के शासकीय महाविद्यालय का नाम उन्ही आचार्यश्री के नाम से प्रस्तावित है जिसे जल्द से जल्द साकार करते हुए अपना वादा निभाने की बात कही। जिस पर विधायक ने उसे जल्द पूरा करने का आश्वासन भी दिया।

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News