पेटलावद पुलिस ने किया वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश | Petlawad police ne kiya vahan chor giroh ka parda fash

पेटलावद पुलिस ने किया वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश

पेटलावद पुलिस ने किया वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश

गुजरात राज्य के 5 आरोपी गिरफ्तार

पेटलावद (मनीष कुमट) - लगातार क्षेत्र में हो रहे वाहन चोरी से पुलिस की नींद उड़ी हुई थी। इस क्षेत्र में वाहन चोर सक्रिय होकर वाहन चोरियो की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। बढ़ती चोरियो से पुलिस सक्रिय हुई और लगातार चोरो को पडकने का अभियान चलाया। रविवार को पेटलावद पुलिस ने वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है।  पुलिस टीम ने इस गिरोह में शामिल 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. साथ ही चोरी हुए 2 वाहन जब्त किये है। गत दिनों लोडिंग पिकअप वाहन गायत्री मन्दिर के पास से माह जून में ओर सितम्बर माह में थांदला रोड़ से एक पिकअप वाहन चोरी हो गया था। जिला पुलिस अधीक्षक विनीत जेन के निर्देशन में एडिशनल एसपी विजय डावर, एसडीओपी बिबिता बामनिया के निर्देशन में थाना प्रभारी दिनेश शर्मा की टीम गुजरात राज्य के गोधरा भेजी गई। पुलिस टीम लगातार 3 दिन तक गोधरा स्टेशन के पास सिंगल फडीया के आसपास उपस्थित  रहकर वाहन चोर अपराधियों तथा चोरी की गई वाहनों की पतारसी की। सूत्र की सूचना पर चोरी गया वाहन एमपी 09 जीएफ 6424 संदेही इकबाल हुसेन पिता सुलेमान सुरति ने अपने घर मक्की मस्जिद के पीछे खनखरिया प्लाट गोधरा पर खड़ा किया।  साथ ही वाहन की पहचान न ही इसलिए वाहन की मूल बनावट बदलने का प्रयास किया गया ओर वाहन पर कलर पेंट कर दिया, लेकिन इस बीच वाहन मालिक ने अपना वाहन पहचान लिया। बाद में आरोपी इकबाल हुसेन पिता सुलेमान सुरति 42 वर्ष को अभिरक्षा में लेकर कड़ी पूछताछ के बाद आरोपी ने वाहन चोरी करना कबूला ओर अब्दुल पिता तय्यब 28 वर्ष, खालिद पिता याकूब चरखा 36 वर्ष, महबूब उर्फ काला पिता सिद्धिक चाँदलिया 42 वर्ष, महबूब हुसेन पिता फारुख हसन 45 वर्ष सभी निवासी गोधरा के नाम बताए। बाद में सभी आरोपियों को पुलिस अभिरक्षा में लेकर माननीय न्यायालय से पुलिस रिमांड लिया। पुलिस पूछताछ में इन्होंने ओर भी वाहन चोरी की घटनाओं को कबूला है। सम्पूर्ण कार्यवाही में ऊनि विजय वास्कले, ऊनि दिव्यज्योति, प्रधान आरक्षक मुनेंद्र, प्रधान आरक्षक शान्तिलाल, प्रधान आरक्षक हितेंद्र, प्रधान आरक्षक देवेन्द्र, आरक्षक राकेश, आरक्षक सुरेश, आरक्षक जीवन, आरक्षक रामप्रसाद, आरक्षक तरवेज, आरक्षक लालसिंह, आरक्षक अनिल की मुख्य भूमिका रही। साथ ही पुलिस ने कहा यह एक बड़ा गिरोह है ।

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News