मुस्लिम समुदाय द्वारा मोहर्रम पर्व मनाया गया | Muslim samuday dwara moharram parv manaya

मुस्लिम समुदाय द्वारा मोहर्रम पर्व मनाया गया

मुस्लिम समुदाय द्वारा मोहर्रम पर्व मनाया गया

धामनोद (मुकेश सोडानी) - मोहर्रम के महीने में इमाम हुसैन की शहादत की याद में ताजिये निकाले गए।मुस्लिम समाज के सेकड़ो समाजजन शामिल हुए।इस मौके पर विभिन्न इमामबाड़ों से ताजिया एवं जुलूस निकाले गये। बुधवार को पहलाम कराने के लिए पुलिस व प्रशासन की ओर से विशेष इंतजाम किये गये थे।नगर में कुल  कई ताजिये निकाले गये।   ताजियों के जुलूस के दौरान प्रशासन ने पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की थी।संजय नगर नारायण कालोनी गुलझरा नया बस स्टैंड क्षेत्रों से ताजिया निकाले गए। मुस्लिम समुदाय ने मोहर्रम के मौके पर या हुसैन-या हुसैन, या अली मौला का मर्सिया शोक गीत पढ़ते हुए अलम मातमी का जुलूस निकाला।निकले जुलूस में शामिल लोगों ने बताया कि यह अलम का जूलूस वर्षों से लगातार निकलता आ रहा है।जुलूस में  समुदाय के लोग उजले कपड़े में थे।विभिन्न मुहल्लों से जुलूस में शामिल होने वाले अलम (मातमी ध्वजा) की संख्या भी थी। जुलूस के आगे बच्चों की टोली व महिलाएं भी चल रही थी।नए बस स्टैंड पर इकट्ठा होने के बाद सभी नगर के मुख्य मार्ग से होते हुए ठंडे करने निकल गए। जिसमे समाज के जमील खान फिरोज नेता इस्माईल चाचा भी शामिल हुए।शुरू से अंत तक थाना दिलीप चौधरी  तथा पुलिस प्रसाशन पूरी तरह मुस्तैद रहा क्षेत्रीय विधायक पाचीलाल मेड़ा  ने सभी को पर्व की बधाई दी

Post a Comment

0 Comments