मां और विधवा भाभी के साथ लाचारी की जिंदगी जी रहा बुधराम मार्को, पाकिस्तानी जेल में काट चुका है सजा | Maa or vidva bhabi ke sath lacjari ki zindagi ji rha budram marko

मां और विधवा भाभी के साथ लाचारी की जिंदगी जी रहा बुधराम मार्को, पाकिस्तानी जेल में काट चुका है सजा

मां और विधवा भाभी के साथ लाचारी की जिंदगी जी रहा बुधराम मार्को, पाकिस्तानी जेल में काट चुका है सजा

डिंडौरी (पप्पू पड़वार) - जिले के करंजिया क्षेत्र के रहने वाले बुधराम मार्को मानसिक स्थिति सही नहीं होने के चलते 5 जुलाई 2012 को पंजाब के पाकिस्तान की सीमा में घुस गया था. जिसे वहां की अदालत ने अवैध रूप से पाकिस्तान की सीमा में घुसने की सजा में जेल भेज दिया था. सजा काटने के बाद तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के प्रयासों से बुधराम भारत वापस लौटा था, तब देश के कई नेताओं ने बड़े-बड़े वादे किए थे, लेकिन बुधराम की हालत आज बेहद खराब है. उसे मदद के नाम पर सिर्फ आश्वासन ही मिला है.

मां और विधवा भाभी के साथ लाचारी की जिंदगी जी रहा बुधराम मार्को, पाकिस्तानी जेल में काट चुका है सजा

पाकिस्तान की सीमा में अवैध रूप से घुसने के अपराध में बुधराम 2 साल 4 महीने पाकिस्तान की जेल में रहा था. भारत लौटने के बाद सुर्खियों में आए बुधराम के घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने को लेकर नेताओं ने कई वादे किए थे, लेकिन वक्त के साथ सभी अपने द्वारा किए वादों को भूल गए. बुधराम आज भी कच्चे मकान में अपनी मां, भाभी और दो बच्चों के साथ रहता है.

बता दें कि बुधराम करंजिया के सुहारिनटोला में अपने परिवार के साथ रहता है. बुधराम की मानसिक हालत ठीक नहीं है. वहीं उसकी मां वृद्ध हो चुकी है. बुधराम की विधवा भाभी मेहनत-मजदूरी कर घर का खर्च चलाती है. बुधराम की मां सुमलिया बाई ने जिला प्रशासन से बुधराम की मदद के लिए कई बार गुहार लगाई है, लेकिन अभी तक कोई मदद नहीं दी गई.

मामले में कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री ओंकार सिंह मरकाम ने कहा है कि बुधराम उनके परिवार और समाज का हिस्सा है, जिसकी यथासंभव मदद की जाएगी.

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News