गणपति बाप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आ के जयघोष के साथ रंगपुरा अनास नदी पर हुआ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन | ganpati bappa moriya

गणपति बाप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आ के जयघोष के साथ रंगपुरा अनास नदी पर हुआ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन, अनंत चर्तुदषी पर शहर में दिनभर निकले विसर्जन चल समारोह

गणपति बाप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आ के जयघोष के साथ रंगपुरा अनास नदी पर हुआ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन

झाबुआ (अली असगर बोहरा) - गणपति बाप्पा मोरिया … अगले बरस तू जल्दी आ …., के जयघोश के साथ 12 सितंबर, गुरूवार को अनंत चर्तुदषी पर श्रद्धालुओं ने गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन कर नमः आंखों से किया। शहर में दिनभर विसर्जन चल समारोह निकलते रहे और गाजों-बाजों, डीजे-ढोल-धमाकों के साथ विभिन्न गणेश मंडल-समितियों के साथ भक्तजनों ने गुलाल उड़ाते हुए, नृत्य करते हुए रंगपुरा अनास नदी पर पहुंचकर प्रतिमाओं का विसर्जन कार्यक्रम पूर्ण हुआ।

शहर में गुरूवार सुबह करीब 8 बजे से विसर्जन चल समारोह निकलना आरंभ हो गए। ढोल-धमाकें और बैंड-बाजों के साथ नाचते-गाते और एक-दूसरे पर गुलाल उड़ाते हुए युवाआें और भक्तजनों में एक तरफ जमकर उत्साह भी था, तो दूसरी ओर उनकी आंखे नम थी, क्योकि 10 दिनों तक गणेष प्रतिमाओं को अपने घरों-प्रतिष्ठानों और पांडालों में विराजमान करने के बाद अवसर था, प्रतिमाओं का विसर्जन करने का ….। तो सभी की आंखे नम भी थी। सिद्धेष्वर गणेष मंडल द्वारा सिद्धेष्वर कॉलोनी में करीब 7 फिट के सबसे बड़े मिट्टी से निर्मित गणेषजी की प्रतिमा की स्थापना की गई थी, जिनका धूमधाम से सिद्धेष्वर गणेष मंडल एवं सिद्धेष्वर कॉलोनी के रहवासियों ने चल समारोह निकालकर प्रतिमा का रगपुरा अनास नदी पर विसर्जन किया तो दोपहर में अयोध्या बस्ती के राजा का चल समारोह निकला। शहर में दिनभर चल समारोह निकलने का क्रम जारी रहा।

गणपति बाप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आ के जयघोष के साथ रंगपुरा अनास नदी पर हुआ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन

अनास नदी पर प्रशासन ने किए विशेष इंतजाम

चूंकि प्रतिमा विजर्सन का स्थल प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी रंगपुरा अनास नदी पर प्रषासन की ओर से नियत किया गया, इस हेतु यहां पुलिस थाना झाबुआ एवं यातायात पुलिस की ओर से भारी पुलिस बल तैनात रहा, ताकि कोई घटना घटित ना हो। वहीं प्रतिमाओं का विजर्सन कार्य नदी के अंदर प्रवेष कर नगपालिका की टीम ने सुरक्षित तरीके से पूर्ण किया। मौके पर निरीक्षण एवं व्यवस्था देखने जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन के वरिष्ठ अधिकारीगण भी पहुंचे। सुबह, दोपहर, शाम के साथ देर रात तक भी विभिन्न मंडलों एवं समितियों ने चल समारोह निकालकर बाप्पा की प्रतिमाओं का विसर्जन कार्यक्रम रंगपुरा अनास नदी पर चलता रहाा

Post a Comment

0 Comments