भाजपा के आंदोलन से कोई फर्क नही पड़ता - आरपी सिंह | Bhajpa ke andolan se koi fark nhi padta

भाजपा के आंदोलन से कोई फर्क नही पड़ता - आरपी सिंह

भाजपा के आंदोलन से कोई फर्क नही पड़ता - आरपी सिंह

मुरैना (संजय दीक्षित) - प्रदेश की कमलनाथ सरकार भरपूर प्रयास कर रही है कि आम व्यक्ति का भी विकास हो, लेकिन केन्द्र की नीतियों के कारण देश मंदी के दौर से गुजर रहा है, पेट्रोल, डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। मेन्यूफेक्चरिंग बैंकिंग, रियल स्टेट, ऑटो मोबाइल क्षेत्र महंगाई के कारण ध्वस्त हो गए हैं। लेकिन हम प्रदेश में कुछ दूरदर्शी कदम उठाने जा रहे हैं। इंदौर और भोपाल के बीच सिक्स लेन, विश्व स्तरीय एक्सप्रेस वे जो कमलनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है इस तरह निर्मित किया जायेगा, जिसके किनारे इंटरनेशनल एयरपोर्ट, इंण्डस्ट्रीयल टाउनशिप, सेटेलाइट टाउन भी विकसित होंगे। युवाओं को बडी संख्या मेें रोजगार उपलब्ध होंगे। प्रदेश में आठ महीने के भीतर 94 कम्पनियों ने उद्योग शुरू करने के आवेदन दिये हैं। लगभग 27 हजार करोड का इंवेस्ट किया जायेगा। यह बात कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता आरपी सिंह ने जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहीं। इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राकेश मावई, प्रवक्ता राजेन्द्र यादव, विक्रमराज मुदगल उपस्थित थे। इस दौरान उन्होंने बिजली यूनिट की खपत का 100 रूपये गरीबों के लिए, बिल दिये जाने की और किसानों को 10 हाउस पावर का कृषि पम्प जिसमें करीब 18 लाख लोग लाभान्वित हुए है। कन्या विवाह, लाडली लक्ष्मी योजना, पोषण आहार पर हम फोकश कर रहे हें जिससे शिशु मृत्यु दर में कमी आये। 40 नदियों का जिनका पुनर्जीवन करने की तैयारी है। तेंदू पत्ता के मजदूरों को बैंक के बजाये सीधे भुगतान करेंगे। रामवन गमन पथ के निर्माण का विकास किया जायेगा। महेश्वर पर्यटन से जोडा जा रहा है। वचन पत्र के मुताबिक कांग्रेस सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। वहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए श्री सिंह ने बताया कि व्यापम घोटाला, डम्फर घोटाला और भी कई घोटाले हैं जो भाजपा पग-पग पर फंसी रखी है, जिसमें करीब 50 से अधिक मौते हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि हम शीघ्र ही रेत की नई खनन नीति ला रहे हैं। इसके लिए हमने बॉर्डर मीटिंगों के भी निर्देश दिये हैं। इस बात को सुनते ही कई पत्रकार बौखला गए और बोले यहां तो उत्खनन के पीछे पुलिस अधीक्षक को भी हटा दिया गया है और लगातार उत्खनन जारी है पुलिस का कोई नुमाइंदा अवैध रेत को रोकने में सक्षम नहीं हो पाया है, कई दुर्घटनाएं भी रेत माफिया की देन है। सरकार कुछ भी कहे लेकिन यहां विधायक असफल हो गए हैं। पत्रकारों के ऐसे सवाल सुनते ही आरपी सिंह तिलमिला गए और बोले ये पर्टीकूलर कुछ एक सेक्टर के लोग हैं वो भाजपा से संबंधित है। इसलिए वो ये अफवाह फैला रहे हैं। पत्रकारों ने कहा कि विधायक ही मंत्रियों पर आरोप लगा रहे हैं इस पर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। सरकार की उपलब्धियां गिनाने के पीछे कई घंटानाद आंदोलन तो नहीं है। सिंह ने कहा कि नहीं हम तो अपनी बात जनता तक पहुंचाना चाहते हैं, किसी पीआरओ और प्रचार के माध्यम से नहीं। फिजूल खर्ची की गाडी कमाई को हॉर्डिंगों और पोस्टरों पर खर्च नहीं करेंगे। लेकिन फिर भी पत्रकारों के सवालों का जबाब नहीं दे सके। वो यही कहते रहे कि हमारी सरकार बहुत अच्छी चल रही है। हमें उनके आंदोलन से कोई फर्क नहीं पडता है।    

Post a Comment

0 Comments