बालाजी मिष्ठान भण्डार की खराब कचौड़ी को लेकर बवाल कलेक्टर से की शिकायत | Balaji mishthan bhandar ki kharab kachori

बालाजी मिष्ठान भण्डार की खराब कचौड़ी को लेकर बवाल कलेक्टर से की शिकायत

बालाजी मिष्ठान भण्डार की खराब कचौड़ी को लेकर बवाल कलेक्टर से की शिकायत

मुरैना (संजय दीक्षित) - मध्यप्रदेश सरकार और जिला प्रशासन मिलावटी और दूषित खाद्य पदार्थों को लेकर काफी सक्रिय होने के बाबजूद भी कुछ दुकानदारों का आलम यह है कि दुकान पर कई दिनों की रखी कचौडी, समोसे और मिठाईयां ग्राहकों को बेचने में लगे हुए हैं। ऐसा ही एक मामला जीवाजी गंज के कॉर्नर पर स्थित बालाजी मिष्ठान भण्डार पर उस समय सामने आया जब एक व्यक्ति ने उससे कचौडी मांगी और कचौडी पूरी तरह से बदबूदार और सडी थी, जैसे ही उस व्यक्ति ने दुकानदार को शिकायत की और अन्य ग्राहकों के बीच यह मामला उछल गया तो सब लोग खडे होकर चिल्लाने लगे। कुछ ही देर में मीडिया के लोग मौके पर पहुंच गए। दुकानदार में आनन-फानन कचौडी का समूचा ढेर कचरे में डाल दिया। ऐसे ही कई मिठाईयां और रात को गलाने वाले आलुओं से बनने वाले समोसे भी पूरी तरह दूषित होने के बाबजूद भी दुकानों पर बेचे जाते हैं। मामला यहीं नहीं शांत हुआ जिन लोगों ने कचौडी सडी गली खरीदी थी वो लोग खाद्य एवं औषद्यि प्रशासन के अभिमत अधिकारी संयुक्त कलेक्टर उमेश शुक्ला के पास पहुंचे लेकिन वह शिकायत सुनने का समय नहीं दे सके। लेकिन उन्होंने लोगों को अस्वस्थ्य किया मैं सेम्पलिंग कराता हूं। यह मैसेज कलेक्टर मुरैना को भी दे दिया गया, लेकिन दुकानदार इस मामले में झुकने को तैयार नहीं था। घटना के चस्मदीद और दूषित पदार्थ की शिकायत करने वाले रवि सिकरवार, शेखू उस्मानी, विपिन दुबे के साथ और अन्य लोग भी सम्मलित थे। देखना यह है कि प्रशासन इस मामले को लेकर इन दूषित खाद्य पदार्थों को बेचने वालों के विरूद्ध क्या कारगर कदम उठाता है जिससे आने वाले समय में लोगों को शुद्ध खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो सके।

Post a Comment

0 Comments