सुरक्षित कल के लिए जल का संरक्षण महती आवश्यकता है - जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट silawat Aajtak24 News

 

सुरक्षित कल के लिए जल का संरक्षण महती आवश्यकता है - जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट silawat Aajtak24 News 

सीहोर - जल ही जीवन का आधार है। पानी के बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती। जल के इसी महत्व को देखते हुए भारतीय संस्कृति में जल की पूजा होती आ रही है। आने वाले कल के लिए जल संरक्षण महती आवश्यकता है। यह बात जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट में इछावर जनपद के ग्राम कांकरखेड़ा में जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत आयोजित श्रमदान कार्यक्रम में कही। मंत्री  श्री सिलावट ने कहा कि जल गंगा संवर्धन अभियान समय की सबसे बड़ी जरूरत है। इस अभियान से जहां एक ओर जल के संरक्षण और संवर्धन में मदद मिलेगी वहीं दूसरी और पर्यावरण में भी सुधार आयेगा। उन्होंने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत नदी, तालाब, कुओं, बावड़ी आदि जल सरचनाओं का जीर्णाद्धार और नवीनीकरण कर उन्हें उपयोगी बनाया जायेगा। केचमेट एरिये से अवरोध हटाकर पानी के आवक में वृद्धि की जायेगी। तालाबों के किनारों पर हरित क्षेत्र बफर जोन तैयार किया जायेगा। हमारा प्रयास है कि वर्षा के जल को ज्यादा से ज्यादा संचित कर भू-जल स्तर में वृद्धि की जाये। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव की पहल पर शुरू किया गया जल गंगा संवर्धन अभियान पूरे प्रदेश का अभियान है, पूरे समाज का अभियान है। इस अभियान में प्रत्येक नागरिक की भागीदारी जरूरी है। मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था 70 प्रतिशत कृषि पर आधारित है और पानी के बिना खेती किसानी संभव नहीं है। खेती साथ-साथ लोगों की जरूरतों के लिए भी पानी का संचयन करना होगा। उन्होंने कहा कि हम इतना पानी का संचय कर लें कि हर गावं, हर शहर पानी के लिए अत्म निर्भर हो जाए। उन्होंने सभी नागरिकों से अपील है कि वे अपने स्तर पर भी जल का संचयन के लिए छोटे छोटे प्रयास कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय श्री अटल बिहारी बाजपेयी के नदियों को जोड़ने की दूरदर्शिता का परिणाम आज दिखाई दे रहे हैं। केन बेतवा लिंक परियोजना, पार्वती चंबल कालीसिंध आदि परियोजनाओं पर काम चल रहा है।  मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में प्रदेश तेजी से विकास कर रहा है। वर्ष 2006 में प्रदेश की सिंचाई का रकबा सात लाख हेक्टेयर था जो बढ़कर आज 47 लाख हेक्टेयर हो गया है। उन्होंने कहा कि साल 2025 में खेती का रकबा 65 लाख हेक्टेयर करने का लक्ष्य है। मंत्री श्री सिलावट ने देश एवं प्रदेश सरकार की अनेक विकास एवं जन कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रदेश तेजी से विकास कर रहा है।

जनता का सम्मान ही मेरा सम्मान है- राजस्व मंत्री श्री वर्मा

कांकरखेड़ा में आयोजित जल गंगा संर्वधन अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम में राजस्व मंत्री श्री करण सिंह वर्मा ने कहा कि जल है तो कल है। हम सभी को जल संरक्षण के लिए सामूहिक प्रयास करना होगा। वर्षा के जल को जितना अधिक रोक सकें रोकना होगा। नदी, तालाबो, कुओं, बावड़ियों, पोखर के साथ ही सभी जल स्त्रों की सफाई, गहारीकरण एवं जीर्णांद्वारा करना होगा ताकि ज्यादा से ज्यादा पानी जमा किया जा सके। 

 राजस्व मंत्री श्री वर्मा ने कहा कि इछावर क्षेत्र के विकास में धन की कमी नहीं आने दी जाएगी। उहोंने ने कि इछावर की जनता का सम्मान ही मेरा सम्मान है। मैं आपनी जनता के हर सुख-दुख में साथ हॅूं और उनके कल्याण और क्षेत्र के विकास के लिए निरन्तर काम करता रहूंगा। उन्होंने कहा कि देश में प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश विकास को नई गति मिलेगी। उन्होंन कहा कि प्रदेश के लोगों को राजस्व संबंधी कामों के लिए परेशान न होना पड़े इसके लिए दो माह तक राजस्व अभियान चला गया, जिसमें 30 लाख से अधिक राजस्व प्रकरणों निरकरण किया गया है। उन्होंन कहा कि यह नियम बना दिया गया है कि सम्पत्ति की खरीदी बिक्री के 20 दिन के अन्दर नामान्तरण हो जाएगा। इसी प्रकार सीमांकन की भी 30 दिन सीमा तय कर दी गई है। मंत्री श्री वर्मा ने कहा कि उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन, प्रधानमंत्री आवास, किसान सम्मान निघि, लाड़ली बहना, लाड़ली लक्ष्मी, निशुल्क राशन वितरण जैसी अनेकों कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है। कार्यक्रम के आरंभ में जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने भी संबोधित किया। 

इन कामों के जल संसाधन मंत्री ने दिए निर्देश

जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने राजस्व मंत्री श्री करण सिंह वर्मा के आग्रह पर कांकरखेड़ जलाशय की क्षतिग्रस्त नहर का सुधार, पाल पर झाढ़ियों की सफाई एवं पिचिंग रिसेटिंग का कार्य किये जाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही बीरपुर उद्वहन सिंचाई योजना में अतिरिक्त कमाण्ड क्षेत्र 800 हेक्टेयर ग्राम अबिदाबाद का परियोजना में शामिल करने के भी निर्देश दिए।

तालाब गहरीकरण के लिए श्रमदान

 ग्राम कांकरखेड़ा में जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम के पश्चात राजस्व मंत्री श्री करण सिंह वर्मा, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय इछावर नगर परिषद अध्यक्ष श्री देवेन्द्र वर्मा कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह, एसडीएम श्री जमील खान, जलसंसाधन विभाग के कार्यपालन यंप्ी श्री दीपक चौकसे, जनपद सीईओ श्रीमति शिवानी मिश्रा, श्री सन्नी गौरव महाजन, श्री कैलाश सुराना, श्री पप्पू नागर, श्री जसपाल अरोरा सहित अनेक जनप्रतिनिधियों, शासकीय सेवको तथा नागरिकों ने तालाबगहरीकरण कार्य के लिए श्रमदान किया।

मंदिर परिसर में किया पौधरोपण

ग्राम कांकरखेडा मरी नारायाणी माता मंदिर परिसर में मंत्री श्री सिलावट एवं मंत्री श्री वर्मा ने अनेक प्रजातियों का पौधारोपण किया। पौधरोपण के पूर्व मंत्री द्वय ने मंदिर में माता की पूजा अर्जना की और देश प्रदेश की खुशहाली की कामना की।



Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News